इन्स्पेक्टर ने की ब्लाक प्रमुख से बदसुलूकी, गरमाई सियासत

165
कौशाम्बी | चायल ब्लाक के प्रमुख सोनू कुमार ने शुक्रवार को इन्स्पेक्टर चरवा पर गंभीर आरोप लगाया है | जिला मुख्यालय में हुयी प्रेस वार्ता के दौरान ब्लाक प्रमुख संघ से मामले में आरोपों के घेरे में आये इन्स्पेक्टर पर कार्यवाही न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है | जनपद में बीजेपी के ब्लाक प्रमुख से बदसुलूकी मामले में गरमाई सियासत को देखते हुए पुलिस अधीक्षक ने मामले की जाँच एडिशनल एसपी से कराये जाने की बात कही है | 
गौतलब है कि सोनू कुमार चायल ब्लाक के प्रमुख व् भारतीय जनता पार्टी के सक्रिय कार्यकर्ता भी है | 25 फ़रवरी को उनका भाई मोनू कुमार कोइलहा पूरामुफ्ती से चरवा स्थित अपने बहनोई को 50 हज़ार रुपये देने बाइक से जा रहा था | आरोप है कि प्रभारी इन्स्पेक्टर चरवा संत शरण सिंह बबुरा चौराहे पर वाहन चेकिंग कर रहे थे | इसी दौरान उन्होंने ब्लाक प्रमुख के भाई की बाइक पकड़ ली | इन्स्पेक्टर चरवा ने कागज न होने पर बाइक का ई चालान कर दिया और बाइक को ले जा कर थाने में पुलिस कर्मियों की मदद से खड़ा कर दिया | जिस पर ब्लाक प्रमुख ने इन्स्पेक्टर चरवा से जानकारी के बाबत फोन किया जिस पर इन्स्पेक्टर ने उनके साथ गाली-गलौच करते हुए बदतमीजी से पेश आये | 
ब्लाक प्रमुख सोनू कुमार का कहना है कि उनका भाई रुपये बाइक की डिग्गी में रख कर बहनोई को देने चरवा जा रहा था | जिस बाइक को इन्स्पेक्टर चरवा संत शरण ने ई चालान के बाद भी जबरन नियम विरुद्ध थाने में खड़ा करा लिया और बाइक के रखे 50 हज़ार रुपये ग़ायब कर दिए है | मामले की शिकायत एसपी कौशाम्बी को तत्काल दी गई थी | कार्यवाही न होने पर उन्होंने अपर पुलिस महानिदेशक प्रयागराज जोन प्रयागराज से मिलकर की, लेकिन अभी तक इंस्पेक्टर पर न तो कार्यवाही की गई और न ही रुपये वापस दिलाये गए है | 
 
एसपी ने सौपी एएसपी को जाँच 
बीजेपी के कार्यकर्त्ता व् प्रमुख बदसुलूकी मामले के पिछले 3 दिनों से वेट एन्ड वाच की हालत में बैठे महकमे के अधिकारी प्रेस कांफ्रेस की जानकारी मिलते ही हरकत में आ गए है | गरमाती सियासत के बीच महकमे में हड़कंप मचा हुआ है | एसपी अभिनन्दन बताया कि ब्लाक प्रमुख प्रकरण जानकारी उन्हें मिली थी | मामले की जाँच अपर पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार को सौपी जा चुकी है | जाँच रिपोर्ट के आधार पर उचित कार्यवाही की जाएगी | 
आईजीआरएस की जाँच आरोपित इन्स्पेक्टर को सौपी
बदसुलूकी मामले में चायल ब्लाक प्रमुख सोनू कुमार ने आईजीआरएस पर ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराई थी | आरोप है कि पुलिस महकमे ने आरोपों के घेरे में आये इन्स्पेक्टर चरवा को ही उसकी जाँच सौप दी है | मामले की जानकारी होते ही प्रमुख सोनू कुमार ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई है | 
 
बदसुलूकी पर गरमाई सियासत 
चायल ब्लाक के प्रमुख सोनू कुमार से बदसुलूकी मामले में अब तक इंस्पेक्टर पर कार्यवाही न होने से जनपद के ब्लाक प्रमुख संघ में खासी नाराज़गी है | ब्लाक प्रमुख संघ ने आज पत्रकार वार्ता कर कौशाम्बी पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोलने की बात कही है | ब्लाक प्रमुख संघ अध्यक्ष जीतेन्द्र सोनकर ने साफ़ कहा है कि जिले में एक सांसद, तीन विधायक व् एक जिला पंचायत अध्यक्ष बीजेपी का हो वहां पर बीजेपी के प्रमुख के साथ इन्स्पेक्टर द्वारा बदसुलूकी किया जाना घोर आपत्ति जनक है | इन्स्पेक्टर चरवा ने जनप्रतिनिधि के साथ जब ऐसे पेश आते है तो अब जनता से उनका रवैया किसी से कहने की जरुरत नहीं है | 
 
बचाव में उतरे पूर्व जिला अध्यक्ष बीजेपी 
बदसुलूकी मामले में आरोपों के घेरे में आये इन्स्पेक्टर चरवा भले ही ब्लाक प्रमुख संघ के निशाने पर आ गए हो, पर बीजेपी के एक पूर्व जिला अध्यक्ष संतोष पटेल बचाव उतर आये है | यह आरोप खुद ब्लाक प्रमुख चायल सोनू कुमार ने एक फोन रिकार्डिंग का हवाला देते हुए लगाया है | सोनू कुमार का कहना है कि मामले पर कार्यवाही के लिए जब एडीजी पुलिस से मिलने गए तो पूर्व जिला अध्यक्ष ने उन्हें फोन कर मामले पर चुप्पी साधने की बात कही | इसके पीछे उन्होंने इन्स्पेक्टर चरवा को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के करीबी होने का हवाला दिया |
Advertisement