एपिडेमिक प्रभाव: जेल बंदियों से मुलाकात पर लगी पाबन्दी

46
vlcsnap-2020-03-25-18h22m44s724
जिला जेल की फोटो
कौशाम्बी | जिला जेल प्रशासन ने बुधवार को Covid 19 के संभावित संक्रमण को देखते हुए परिसर को लॉक डाउन का दिया है। जिला जेल अधीक्षक एक प्रेस नोट जारी कर यह जानकारी साझा की है। जेल में बंद बंदियों का हाल उनके परिजन जान सके, इसके लिए जेल पीसीओ की पहल की गई है।  
जेल अधीक्षक बीएस मुकुन्द ने बताया कि कोरोना वाइरस के संक्रमण के खतरे को देखते हुए जेल को पूरी तरह से लॉक डाउन किया गया है। जेल लॉक डाउन होने से बंदियों में संक्रमण फ़ैलाने का खतरा काफी हद तक कम किया जा सकेगा। सबसे ज्यादा संक्रमण फ़ैलाने का खतरा बंदियों के मुलाकात के दौरान होता है। यह फैसला कारागार स्तर और गठित टास्क द्वारा किया गया है। प्रधानमंत्री मोदी की अपील के अनुसार 14 अप्रैल तक जेल मुलाकात लॉक-डाउन की गई है। इस दौरान बंदी अपने परिवार के लोगो से जेल पीसीओ की मदद से टेलीफोनिक बात कर सकेंगे।  
 
क्या है जेल पीसीओ व्यवस्था 
जिला जेल में बंदियों की सुरक्षा के मद्देनज़र “जेल पब्लिक काल ऑफिस” बनाया है। जिसमे जेल प्रशासन ने 3 मोबाइल नंबर जारी किया है। जेल पीसीओ 26  मार्च से 14 अप्रैल तक सक्रीय रहेगा। बंदियों के परिजन बात करने हेतु मुलाकात पिटीशन राइटर के नंबर 7706902989, 8933940903 पर संपर्क प्रतिदिन सुबह 8 बजे से 10 बजे के बीच कर बंदी का नाम पिता का नाम व् पता नोट करायेगे। जेल पीसीओ में अंकित हुयी लिस्ट के अनुसार 7706902989, 8933940903 व् 9454469152 पर कांफ्रेस काल के जरिये बंदियों से बात सुबह 11 बजे से दोपहर 1 बजे के बीच कराई जाएगी।
Advertisement