और जब इन लोगों के लिए बनाया गया अस्थायी आवास कारण हैं ये

33

महराजगंज (रायबरेली) । कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते प्रकोप से बचने के लिए हरियाणा पंजाब मुंबई राजस्थान दिल्ली गाजियाबाद गुड़गांव सहित विभिन्न प्रदेशों से श्रमिक पलायन कर अपने घरों को आने के लिए मजबूर हैं। श्रमिक बिना जांच-पड़ताल के अपने घरों में निवास कर रहे हैं जिसकी शिकायत लगातार तहसील स्तरीय अधिकारियों को मिल गई थी सोमवार को एसडीएम विनय कुमार सिंह के निर्देश पर तहसील क्षेत्र के जरेला और पुरासी प्राथमिक विद्यालय क्वॉरटाइन बनाया गया है जिसमें से दोनो गाँव में निवास करने वाले दो दर्जन से अधिक श्रमिकों को 14 दिनों के लिए रखा गया है यहीं पर इनके स्वास्थ्य की जांच पड़ताल की जाएगी एसडीएम विनय सिंह ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि तहसील क्षेत्र में ग्रामीण क्षेत्रों में निवास कर रहे लोगों के लिए पंचायत भवन प्राथमिक विद्यालय में यह व्यवस्था की गई है एमडीएम के माध्यम से श्रमिकों को भोजन दिया जाएगा। वही गांव के प्रधान को निर्देशित किया गया है कि अगर कोई भी बाहरी व्यक्ति ग्राम सभा में प्रवेश करता है तो इस मामले की सूचना तत्काल तहसील प्रशासन को दी जाए।

अनुज मौर्य/अशोक यादव रिपोर्ट

Advertisement