और जब डीएम, एसपी ने जिलाअस्पताल में औचक निरक्षण कर जारी किये ये सख्त निर्देश

126
रायबरेली
जिला अस्पताल पहुँची डीएम शुभ्रा सक्सेना व पुलिस अधीक्षक ने वार्ड में भर्ती मरीजों से मुलाकात कर अस्पताल में मिल रही सुविधाओं की हकीकत जानी,वही कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों के लिए बनाए गए आइसोलेशन वार्ड का औचक निरीक्षण किया इसके बाद डीएम ने ब्लड बैंक का हाल जाना। डीएम ने जिला अस्पताल की ओपीडी का निरीक्षण किया और डॉक्टरों को हिदायत दी कि वह दलालों से दूर रहे और मरीजो को अस्पताल की दवाएं लिखे। और किसी भी प्रकार की लापरवाही नही बरते।जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना व पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगई ने आज शाम अचानक जिला अस्पताल में निरीक्षण करने पहुंचे। इससे जिला अस्पताल के डॉक्टरों और कर्मचारियों में हड़कंप मच गया।जिलाधिकारी ने अस्पताल के वार्डों को एवं डॉक्टरों के चैंबरों को चेक किया और अस्पताल में भर्ती मरीजों का हालचाल भी लिया, साथ ही उनके परिजनों से इलाज को लेकर और सुख सुविधाओं को लेकर भी बात की है। इससे मरीजों ने जिला अधिकारी को अपने समस्याओं के बारे में बताया और जिलाधिकारी ने मरीजों से यह बात बताई कि कोई भी डॉक्टर या अन्य कर्मचारी अस्पताल का बाहर की दवा लिखता है तो हमारे पास शिकायत कीजिए और मैं उसके खिलाफ कार्रवाई करूंगी।वही जिलाधिकारी ने कोरोना वायरस के मरीज़ो के लिए बनाए गए आइसोलेशन वार्ड को भी जाँचा और डॉक्टरों व अधिकारियों को 24 घण्टे सतर्क रहने के निर्देश दिए वही कोरोना वायरस के मरीज के लिए 24 घण्टे एम्बुलेंस को अलर्ट मोड़ में रहने के निर्देश जारी कर दिए है।।

अनुज मौर्य रिपोर्ट

Advertisement