कांग्रेस नेता ने निकाला जान जागरण यात्रा

19

मोजीम खान

तिलोई (अमेठी)। जनपद तिलोई तहसील को पुनः रायबरेली में जोड़ने के लिए संघर्ष कर रहे जिला बहाली के नेतृत्वकर्ता लाल प्रताप सिंह ने आज फिर दर्जनों गाड़ियों के काफिले के साथ क्षेत्र का भ्रमण कर तहसील पहुंचे व मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी तिलोई सुनील कुमार त्रिवेदी को सौंपा ।
गौरतलब रहे कि तिलोई तहसील को रायबरेली जनपद से वर्ष 2003 में काटकर अमेठी जनपद में जोड़ दिया गया था रायबरेली में जोड़ने के लिए कई वर्षों से लगातार संघर्ष का बिगुल बजाने वाले लाल प्रताप सिंह धरना प्रदर्शन आंदोलन व रोड जाम चक्का जाम करके केंद्र व राज्य सरकार का ध्यान केंद्रित करने में लगे हुए हैं जिस के क्रम में आज मोहनगंज से दर्जनों गाड़ियों के काफिले के साथ लाल प्रताप सिंह चेतरा, जायस, फुरसतगंज, बहादुरपुर, अलाईपुर, रमई, बारकोट होते हुए आए और एसडीएम तिलोई को पहुंचकर अपना ज्ञापन सौंपा श्री सिंह ने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन में इस बार अपनी मांग रखी है कि जब तक अमेठी जनपद से तिलोई तहसील को नहीं हटाया जाएगा तब तक मेरा संघर्ष जारी रहेगा श्री सिंह का कहना है कि अमेठी जिले में शामिल तिलोई तहसील से जनपद मुख्यालय को जाने के लिए कोई भी वाहन आज तक मुहैया नहीं है जिससे तहसील के कोने से 75 किलोमीटर दूर जनपद मुख्यालय को जाने के लिए लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है यही नहीं जब रायबरेली जनपद था तो मंडल लखनऊ में आसानी से लोग जा सकते थे दूरी बढ़ गई अब फैजाबाद मंडल में चले जाने से भी एक संकट खड़ा हो गया है। लाल प्रताप सिंह ने वर्ष 2014 मे धारा 51 के अंतर्गत तथा दिनांक वर्ष 2016 में धारा 301 के अंतर्गत सूचना प्रमुख सचिव विधानसभा उत्तर प्रदेश के यहां से प्राप्त प्रतिलिप को भी एसडीएम को सौंपा है।

Advertisement