51 हजार दीपों से रामघाट पर भव्य दीपदान

8

चित्रकूट। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की तपोभूमि में बाबा विश्वनाथ की नगरी बनारस से आने वाले भक्तों का दीपदान हर वर्ष चित्रकूट के रामघाट में विहंगम रहता है, 51 हजार दीप दशकों से यह भक्तमण्डल मंदाकिनी किनारे जलाकर अपनी अगाध आस्था का परिचय देते हैं।

वाराणसी से इसबार 5 बसों में सवार होकर यात्री 5 दिनों के लिए चित्रकूट आए हैं बुधवार को पूरे रामघाट को इन सैकड़ों बनारसी भक्तों ने दीपों से जगजगा दिया।

51 हजार दीपों से रामघाट का नजारा बड़ा ही विहंगम नजर आया। बनारसी भक्तों ने बताया कि पिछले कई दशकों से वह लोग काशी से चलकर चित्रकूट आते हैं। यहां दीपदान करते हैं, जगह-जगह मठ-मंदिरों में भजन-कीर्तन का आयोजन किया जाता है।

गुरुवार को यही भक्तों की टीम शाम को बूडे हनुमानजी में भी भव्य दीपदान कार्यक्रम करेगी। इसके बाद टीम मैहर के लिए प्रस्थान करेगी। बनारस के इन भक्तों के दीपदान को देखने के लिए रामघाट में हजारों लोग जुटते हैं।

दीपदान के समय ही रामघाट में भजनों की बयार बही। पूरे भक्तिभाव और आस्था से लबरेज इन भक्तों की टोली बरबस ही लोगों को आकर्षित करती है।

इस मौके पर बनारस के पुरुषोत्तम यादव, कुट्टू शर्मा, रमेश यादव, अमरनाथ शर्मा, डब्लू मिश्रा, नंदलाल यादव, महेंद्र यादव, जगदीश यादव, हरिहर बाबा, रामसूरत यादव समेंत लगभग तीन सैकड़ा काशी के भक्तजन मौजूद रहे।

– पुष्पराज कश्यप

Advertisement