कोरोना वायरस से बचाव के लिए चलाया गया जागरुकता अभियान

8

रायबरेली

उत्तर-प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष एवम प्राथमिक विद्यालय गोझवा बछरावां के प्रधानाध्यापक द्वारा ग्राम गोझवा मनखेड़ा में सभी बच्चोँ के घर-घर जाकर बच्चों एवम अभिभावकों को कोरोना वायरस से बचाव हेतु जागरूक किया गया तथा हाथों की निरंतर साफ-सफाई हेतु साबुन का वितरण करते हुए उन्हें प्रेरित किया गया । आशुतोष शुक्ल के द्वारा अभिभावकों को जागरूक करते हुए कहा गया कि आज यह वायरस सम्पूर्ण मानवता के अस्तित्व को चुनौती दे रहा है l आइये हम सब मिलकर इसकी चुनौती को स्वीकार करें l इसके संक्रमण से खुद को व संयम व सावधानीपूर्वक बचाए व दूसरो को बचाव हेतु प्रेरित करें।इसको रोकने का यही सर्वोत्तम उपाय है* l *आइये हम सब संकल्प ले कि जब तक कॉरोना का समुचित उपचार नहीं खोज लिया जाता तब तक घरो से,निकलने, भीड वाली जगहो पर जाने से बचे व दूसरो को भी बचाये l इसी क्रम में ग्रामीणों से अपील की गयी कि वह 22/3/20 को माननीय प्रधान मंत्री जी के आह्वान पर प्रातः 7 बजे से साय 9 बजे तक जनता कर्फ़्यू को पूर्णतः सफ़ल बनाये l कॉरोना से लड़ाई में शासन, स्वास्थ्य सेनानियो का सहयोग करे l*
*एक दिन के कर्फ्यू का महत्त्व से* सभी को अवगत कराते हुए कि
सामान्य सूचना के आधार पर* कॅरोना वायरस किसी भी सतह* पर लगभग *9 से 12 घंटे* जीवित रहता है और कर्फ्यू का समय *सुबह 7 से रात 9 बजे तक।* *मतलब 14 घंटे और फिर रात मतलब मोटे तौर पर 24 घंटे अर्थात ये 24 घंटे लोग घरों में रहेंगे तो वायरस संक्रमण सतहों से लगभग शून्य हो जाएगा और *सोशल ट्रांसमिशन* (सामाजिक प्रसारण) का खतरा बहुत कम हो जाएगा , बहुत बुद्धिमानी पूर्ण *निर्णय हम सबको मिलकर इसको शत प्रतिशत सफल बनाना चाहिए यह विश्व के रक्षण में एक मील का पत्थर साबित होगा।यह सब आपकी जागरूकता एवम सहयोग से पूर्णतया सम्भव है।*
*इस घर-घर जाकर किये गए जनजागरूकता में सभी विद्यालय प्रबंध समिति के सदस्यों का आश्वासन एवम सहयोग प्राप्त हुआ।

अनुज मौर्य/अनूप सिंह रिपोर्ट

Advertisement