कौशाम्बी लाकडाउन से बाहर फिर भी रहे बंदी जैसे हालात

17
IMG-20200323-WA0019
सराय अकिल कसबे में बंद दुकाने

कौशाम्बी | कोरोना वाइरस के संभावित खतरे को देखते हुए जनपद में सोमवार को बंदी जैसे हालात दिखाई पड़े | भरवारी सराय अकिल मंझनपुर मनौरी सिराथू अझुआ की बाज़ारो में पूरे दिन सन्नाटा ही पसरा रहा |सुबह से किराना फल सब्जी की दुकाने खुली रही |  इन दुकानों पर बढ़ती भीड़ को देखते हुए स्थानीय पुलिस ने दुकाने बंद करा दी | 

 

गौरतलब है कि कोरोना वाइरस के खतरे में मद्देनज़र प्रधानमंत्री मोदी ने एक दिन के जनता कर्फ्यू का एलान किया था | जिसको जनता ने सहज स्वीकार कर पूरे दिन सयम दिखाया | देश के दूसरे शहरों की तरह ही कौशाम्बी में इसका व्यापक असर देखने को मिला | 

 

जनता कर्फ्यू के बाद सोमवार को जनपद को लाकडाउन ने बाहर रखा गया | जनपद की सीमा से सटे प्रयागराज जनपद में लाकडाउन होने के चलते प्रमुख व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहे | रोजमर्रा के सामान की दुकाने जैसे किराना, फल-सब्जी खुली रही | दोपहर में बाज़ारो में बढाती भीड़ के मद्देनज़र स्थानीय पुलिस ने एतिहातन सभी दुकाने बंद करा दी | अपर पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार का कहना है कि जनता कर्फ्यू के बाद बाज़ारो में लोगो भीड़ की शक्ल में इकक्ठा होने लगे थे | जिसके चलते एतिहातन कुछ समय के लिए भरवारी मंझनपुर सराय अकिल में लाकडाउन किया गया है | 

 

जनपद में सार्वजानिक ट्रांसपोर्ट सेवा पूरी तरह से बंद रही | सडको पर लोग अपने निजी साधनो से ही इधर-उधर आते जाते दिखाई दिए | प्राइवेट बसों टैम्पो टैक्सी का सञ्चालन पूरी तरह से बंद रहा | टैम्पो टैक्सी यूनियन के अध्यक्ष मोहम्मद नसीम ने बताया कि सुबह स्थानीय स्तर पर परिवहन शुरू किया गया था लेकिन पुलिस ने जगह जगह रोक कर ड्राइवरों को परिवहन न करने को कहा जिससे दोपहर के बाद गाड़िया बंद कर दी गई |

Advertisement