खेत की रखवाली करने गए किसान की ठंड लगने से मौत

31

डलमऊ (रायबरेली)।डलमऊ तहसील क्षेत्र के एक गांव में आवारा जानवरों से खेत की रखवाली करने गए किसान की ठंड लगने से मौत हो गई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पवन कुमार दीक्षित पुत्र स्वर्गीय केदारनाथ दीक्षित उम्र लगभग 52 वर्ष निवासी छज्जूपुर निजी आरा मशीन में बतौर दिहाड़ी मजदूर कार्य करते थे।शनिवार शाम को जब वह आरा मशीन से मजदूरी करके वापस लौटे तो उनके पुत्र प्राँशू ने उनसे बताया की खेतों में आवारा जानवर फसल नष्ट कर रहे हैं।यह सुनकर पवन कुमार खेतों की तरफ जानवरों को खदेड़ने गए।काफी समय बीतने के पश्चात जब पवन कुमार घर नही लौटे तो परिजन उनकी खोजबीन के लिए खेतों की तरफ गए।जहाँ पर पवन कुमार काँपते हुए खेत की मेड़ के किनारे ठिठुरते हुए बैठे थे। परिजन उन्हें पकड़कर घर लेकर आये और उनको आग तपाया तथा दूसरे दिन सुबह परिजन सीएचसी डलमऊ लेकर गए जहां पर चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार करने के बाद पवन कुमार की हालत बिगड़ता देख उनको जिला अस्पताल रायबरेली के लिए रिफर कर दिया।रायबरेली जिला अस्पताल में भी चिकित्सकों ने पवन कुमार की हालत बिगड़ता देख फौरन उन्हें किंग जार्ज मेडिकल कॉलेज लखनऊ के ट्रामा सेंटर के लिये उन्हें रेफर कर दिया। जहाँ पर चिकित्सकों ने उन्हें बचाने के भरसक प्रयास किए परन्तु ठंढ फेफड़ों तक पहुंच जाने के कारण अन्ततः पवन कुमार ने ट्रामा सेंटर लखनऊ में दम तोड़ दिया।पवन कुमार दीक्षित ने अपने पीछे परिवार में एक अविवाहित बेटी प्राची उम्र 16 वर्ष व एक बेटा प्राँशू 10 वर्ष तथा पत्नी को छोड़कर चले गए। बड़ी बेटी रोशनी की शादी उन्होंने2 वर्ष पूर्व में ही कि थी। पवन कुमार किसी तरह मेहनत मजदूरी करके अपने परिवार का भरण पोषण करता था तथा वह अकेला ही घर का खर्च चलाने वाला व्यक्ति था उसके चले जाने के बाद अब परिवार के सामने आर्थिक स्थिति की गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई है पवन कुमार की आर्थिक स्थिति ठीक ना होने के कारण उसने बैंक से लोन भी ले रखा था।

अनुज मौर्य/विमल मौर्य रिपोर्ट

Advertisement