गुलाबी गैंग की चीफ की चित्रकूट में हुई पिटाई, विधायक पर लगाया महिलाओं से हंगामा करने का आरोप

591

विधायक ने कहा समस्याओ की जांच पहले से चल रही है

संदीप रिछारिया ( वरिष्ठ संपादक)

चित्रकूट । गुलाबी गैंग की कमांडर व मानिकपुर विधानसभा से कांग्रेस के टिकट पर विधानसभा का चुनाव लड़ चुकी समाप्त पाल की गुरुवार को नगर पंचायत कार्यालय में जनसमस्याओं पर आंदोलन करते समय नाराज महिलाओं ने पिटाई कर दी। खुद की पिटाई करवाने का आरोप श्रीमती पाल ने स्थानीय विधायक नीलांशु चतुर्वेदी पर जड़ते हुए आर पार की लड़ाई छेड़ने की धमकी दी। उन्होंने यहाँ तक कहा कि वह कांग्रेस भी छोड़ सकती है। विधायक नीलांशु चतुर्वेदी ने कहा कि वो इस समय भोपाल में है। उनकी बहन नगर पंचायत की अध्यक्ष है। श्री मती पाल अभी जल्दी जल्दी दो तीन प्रदर्शन कर जनसमस्याएं प्रकाश में ला चुकी है। उनके सभी पत्रों की जांच चल रही है। उन्होंने कहा कि उनका कार्य क्षेत्र उत्तर प्रदेश में है। उन्हें वही पर राजनीति करनी चाहिए।वे एमपी में आकर और इस तरह एमपी में आकर धरना प्रदर्शन कर पार्टी के अनुशासन को तोड़ने का काम कर रही है। वह समस्याओ को लेकर वैसे ही आये ,उनकी बताई जाने वाली समस्याओं के निदान का प्रयास किया जाएगा।

गुरूवार की दोपहर रजौला गाँव से गुलाबी गैंग की कमांडर के नेतृत्व में लगभग पांच सैकड़ा महिलाये बिना किसी पूर्व सूचना के जुलूस निकालकर जोरदार नारेबाजी करती नगर पंचायत कार्यालय पहुँची। यहाँ पर महिलाओं के तेवर देख कर्मचारी सकते में आ गए। लगभग दो घण्टे तक कोई काम नही हो सका। हंगामे के दौरान मुख्य कार्यपालक अधिकारी मझगवां गए हुए थे। सम्पत पाल उन्हें बुलाने के लिए अड़ी थी। काफी देर बाद जैसे ही उन्होंने ज्ञापन दिया,कुछ महिलाएं उत्तेजित हो गयीं। उन्होंने संपत पाल पर जबरन अनर्गल आरोप लगा प्रदर्शन करने का आरोप लगाया तो सम्पत पाल गरम हो गई। इसी दौरान एक महिला ने सम्पत पाल पर हमला कर दिया। उनके हाथ मे चोट आई। उन्होंने पुलिस को अपनी चोट दिखाते हुए विधायक पर महिलाओं से हमला करवाने का आरोप लगाया।

Advertisement