ग्राम-स्वराज ! जैव ऊर्जा से पूरी करता है किसान अपने घर और खेत की ऊर्जा की जरुरत

12
vlcsnap-2020-03-21-11h25m51s408
जैव ऊर्जा संयंत्र की तस्वीर
कौशाम्बी | एक किसान परिवार प्रधानमंत्री मोदी के मिशन ग्राम स्वराज को मूर्त रूप दे रहा है | वह अपने घर परिवार की दैनिक जरुरत की बिजली की पूर्ति जैव उर्जा से कर रहा है | परिवार के मुखिया ने 20 घन मीटर का एक बायो गैस प्लांट लगाया है | उसी से वह अपने घर में बिजली, खेतो की सिचाई के लिए पानी, और तो रसोई के लिए गैस का इस्तेमाल जैव ऊर्जा से ही पूरा करते है | 
सिराथू तहसील के एक छोटे से गाव में रहने वाले किसान सुरेश पाण्डेय ने भारत सरकार के जैव ऊर्जा मंत्रालय की मदद से जैव ऊर्जा का प्रयोग कर मिशाल पेश की है | खेती किसानी में ही अपनी जिंदगी का लम्बा समय बिता कर अपने बेटे बेटियों को अच्छी शिक्षा दी है | जिसका नतीजा है कि बच्चो ने बड़े होकर गाव के बाहर जाने की जगह गाव में ही रहकर विकास के पहियों को नया आयाम दिया है | सुरेश पाण्डेय बताते है कि बेटे रवीन्द्र के कहने पर उन्होंने बिना किसी सरकारी मदद के 20 घन मीटर का बायो गैस प्लांट लगाया | जिसके बाद से इस किसान परिवार ने अपने घर परिवार की बिजली की जरूतर को पूरा करने के लिए जैव ऊर्जा को आधार बना लिया | सुरेश पाण्डेय अब इसी से घर को रोशन करने के लिए बिजली , खाना पकाने के लिए गैस , खेतो की सिचाई के लिए जमीन से पानी निकलने के लिए पंप इसी बायो गैस की चलते है | उनका पूरा परिवार जैविक ऊर्जा पर ही पूरी तरह निर्भर है | 
 
 
जैविक ऊर्जा के जरिये अपनी दैनिक जरूरतों को पूरा करने वाले किसान सुरेश पाण्डेय की सफलता की कहानी सामने आने के बाद मुख्य विकास अधिकारी इन्द्रसेन सिंह काफी गदगद है | सीडीओ इन्द्रसेन सिंह ने बताया कि किसान सुरेश पांडेय को अब वह उन्नतशील किसान का रोल मॉडल बना कर जनपद के दूसरे किसानो के सामने पेश करेंगे | जिससे अन्य किसान भी उनसे प्रेरणा लेकर जैव ऊर्जा को अपनाये |  
Advertisement