भक्तों के लिए इचौली में विशाल भण्डारा

76

हमीरपुर-मौदहा क्षेत्र के ग्राम नायकपुरवा इचौली स्थित झरियारे बाबा मंदिर में झांसी, जालौन गरौठा एवं हमीरपुर से हजारों की संख्या में भाद्रप्रद अमावस्या में चित्रकूट पैदल पहुंचने वाले यात्रियों के लिए भण्डारे में सुबह नास्ता भोजन की व्यवस्था की जाती हैं चित्रकूट वो पावन स्थल है जहां भगवान श्री राम जी माता सीता व अनुज लक्ष्मण सहित वनवास काल का अधिकतम समय यही बिताए जो चित्रकूट में कामद गिरी पर्वत के नाम से जाना जाता है।जहाँ लोगो की बहुत आस्था है प्रत्येक भाद्रप्रद की अमावस्या में हजारों की संख्या में लोग पैदल यात्रा करते है महिलाएं बड़े बूढ़े क्या बच्चे सब पैदल सर में बैग और दिन रात चलते चले जा रहे है।ग्रामीणों के सहयोग से यह भण्डारा अमावस्या के एक सप्ताह पहले शुरू किया जाता हैं ।जिसमे हरदीपक निषाद ,एम डी प्रजापति,अनूप गुप्ता,रामविशाल गुप्ता,कमलेश शुक्ला,स्यामबाबू,जीतू सिंह रिपोर्ट- एमडी प्रजापति

Advertisement