जमीनी विवाद में भाई ने भाई पर किया जानलेवा हमला

63

गंभीर हालत में जिला अस्पताल रेफर
लालगंज(रायबरेली)सरेनी थाना क्षेत्र में । गौतमन खेड़ा मजरे धुरेमऊ गावँ में जमीनी विवाद में छोटे भाई ने बड़े भाई पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया।उसे पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया जहाँ उसकी गंभीर हालत को देखकर जिला अस्पताल भेज दिया गया।जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने उसे इलाज हेतु ट्रामा सेंटर रिफर कर दिया।मिली जानकारी के अनुसार सरेनी थाना क्षेत्र के धुरेमऊ गावँ के ओमप्रकाश सिंह के पुत्र सतनाम सिंह व सोहन सिंह में जमीन जायदाद को लेकर विवाद था।बुधवार को सबह लगभग साढ़े आठ बजे जैसे ही बनपुरवा मजरे धुरेमऊ गावँ में स्थित अपने खेत जोतवाने सतनाम सिंह गये तो वहाँ छोटा भाई सोहन सिंह भी पहुँच गया व बड़े भाई सतनाम सिंह पर ताबड़तोड़ कुल्हाड़ी चला दी।कुल्हाड़ी पैर व गर्दन सहित शरीर के कई हिस्सों में लगी है।सतनाम सिंह की हालत गंभीर है।उसे पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सरेनी वहाँ से जिला अस्पताल भिजवाया गया।जहाँ डॉक्टरों ने उसकी गंभीर हालत को देखते हुए ट्रामा सेंटर रिफर कर दिया।कोतवाल हरिकेश सिंह ने बताया है कि अभी सतनाम सिंह की पत्नी या उसके परिवार के सदस्यों की ओर से कोई तहरीर नहीं मिली। वे स्वयं सतनाम सिंह को लेकर जिला अस्पताल गये थे।तहरीर मिलते ही मुकदमा कायम कर आरोपी को जेल भेजा जायेगा। क्या है घटना के पीछे—— गौरतलब है कि धुरेमऊ गावँ के स्व. ओमप्रकाश सिंह स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व.मनबोध सिंह के बड़े पुत्र थे।श्री सिंह सरेनी बाजार के भू स्वामी थे।इन्होंने आजीवन अपनी जमीन पर ही बाजार लगवाई थी व अपने जीवन काल में कोई टैक्स न लेने की प्रतिज्ञा का पालन भी किया।अब उनकी मृत्यु के बाद उनकी जमीन उनके दोनों पुत्र ओमप्रकाश सिंह व जय प्रकाश सिंह के मध्य बंट गयी।एक साल पहले ही ओमप्रकाश सिंह का निधन भी हो चुका है।बताते हैं कि ओमप्रकाश सिंह के भी दो पुत्र हैं।बड़े पुत्र का नाम सतनाम सिंह (४५वर्ष) जबकि छोटे पुत्र का नाम सोहन सिंह (40 वर्ष)है।सतनाम सिंह का इकलौता पुत्र श्रेष्ठ नाम का है जबकि सोहन सिंह के सिर्फ तीन पुत्रियां है।ओमप्रकाश सिंह ने अपनी मृत्यु से पूर्व अपनी पूरी जायदाद सतनाम के इसी इकलौते पुत्र श्रेष्ठ के नाम हिबानामा कर दी जिससे सोहन सिंह भूमिहीन हो गया।वह अपनी गुजर- बसर के लिए कुछ जमीन माँग रहा था।इसी वजह से बड़े भाई सतनाम सिंह से नाराज था।आज उसने अपनी नाराजगी उस पर कुल्हाड़ी चलाकर जता दी। रिपोर्ट- संदीप कुमार फिजा

Advertisement