जिलाधिकारी ने कोरोना को लेकर जारी कर दिये ये सख्त निर्देश,लापरवाही या दोषियों पर होगी ये कार्यवाही

94

रायबरेली

जिले की अब तक कि सबसे तेज जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस को लेकर अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई के सख्त निर्देश जारी कर दिये है उन्होंने कहा जो व्येक्ति झाड़ फूक या अन्य कोई कोरोना की दवाई देने का दावा करते है उनके खिलाफ कानूनी सख्त कार्यवाही की जाएगी डीएम ने रिपोर्ट्स टुडे से एक्सक्लूसिव बातचीत मे बताया कि केवल चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की सूचना ही अधिकृत होगी। प्रदेश में कोरोना वायरस पर प्रभावी नियन्त्रण और इसके प्रसार को रोकने के लिए सरकार ने महामारी घोषित करते हुए जिला कलक्टर्स और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को शक्तियां प्रदान कर दी है। वही जिलाधिकारी हर घण्टे स्वास्थ्य विभाग से डेटा पूछ रही हैं जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को ये सख्त निर्देश जारी किये हैं कि वे 24 घण्टे अपना फोन ऑन रखे औऱ सूचना मिलते ही तत्काल अस्पताल पहुँचकर मरीज की जाँच करे वही जिलाधिकारी खुद समय समय पर जाकर लगातार आइसोलेशन वार्डो का निरीक्षण कर रही है फिलहाल अभी तक जिले में एक भी संक्रमित मरीज की पुष्टि नही हुई हैं ।

जिलाधिकारी ने करी ये अपील

जिलाधिकारी ने जिले की जनता से अपील करते हुए कहा कि वे भीड़भाड़ वाली जगहों में जाने से बचे बाहर से घर आने पर हाथों को अच्छे से धोएं कोशिश करे कि लोगो से हाथ न मिलाए नमस्कार से अभिवादन करे,वही ये जानकारी और लोगो को भी देने की आमजनमानस से अपील करी हैं।

प्रदेश में कोरोना को एक खतरनाक संक्रमण वाली महामारी माना गया है.। कोरोना वायरस को रोकने के लिए जिला कलेक्टर्स और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को अपने जिलों में रोकने के लिए प्रिवेंटिव मेजर्स अपनाने की छूट दी गई है। एक्ट के तहत नियम तोडऩे वालों पर सेक्शन 188 आईपीसी (45) के तहत दण्डात्मक कार्रवाई प्रशासन को करने का अधिकार मिल गया है। उत्तरप्रदेश प्रदेश सरकार ने पूरे प्रदेश में स्वास्थ्य टीमों को तैनात कर सर्वे का काम शुरू कर दिया है।

अनुज मौर्य रिपोर्ट

Advertisement