जिला अस्पताल में कैंसर पीड़ित बंदी की मौत

5

– बंदी की हालत बिगड़ने पर कराया गया था भर्ती

बांदा। हत्या और गैंगेस्टर के आरोपी एक बंदी को कैंसर पीड़ित होने पर हालत बिगड़ गई, उसको हमीरपुर से मंडल कारागार बांदा में शिफ्ट किया गया था। कैंसर से पीड़ित होने के कारण इस बंदी का उपचार कानपुर के एक अस्पताल में किया जा रहा था। कोरोना वायरस के चलते लाक डाउन हो जाने पर अस्पताल से बंदी को मंडल कारागार बांदा लाया गया था। वहां पर उसकी हालत खराब हो जाने के बाद मंडल कारागार में भर्ती कराया गया। सोमवार की दोपहर को उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। शव को मच्र्युरी हाउस में रखवा दिया गया है। परिजनों को सूचना दी गई है।

हमीरपुर जिले के सरगांव निवासी राघवेंद्र सिंह (43) पुत्र गीरेंद्र सिंह हत्या और गैंगेस्टर के मामले में मंडल कारागार में निरुद्ध था। वह कैंसर से पीड़ित था। रविवार की रात उसकी अचानक हालत बिगड़ गई। बंदी रक्षकों ने देखा तो जेल प्रशासन को खबर दी। उसे तत्काल जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां उपचार के दौरान सोमवार की दोपहर बंदी ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। मौत की खबर परिजनों को दे दी गई है। शव को मच्र्युरी हाउस में रखवा दिया गया है। जेल अधीक्षक ने बताया कि मृतक हत्या और गैंगेस्टर का आरोपी था। वह दो अक्टूबर 2019 को हमीरपुर जेल से ट्रांसफर होकर यहां आया था। वह कैंसर से पीड़ित था। उसका कानपुर के जेके अस्पताल में उपचार किया जा रहा था। कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनजर छुट्टी कराकर उसे मंडल कारागार वापस लाया गया था।

सुधीर त्रिवेदी (वरिष्ठ पत्रकार)

Advertisement