छापेमारी के दौरान खनिज अधिकारी की टीम पर ग्रामीणों का पथराव

29

सुरक्षाकर्मियों से हुआ विवाद, मोबाइल भी छीना

चित्रकूट। ओवरलोड, अवैध खनिज परिवहन की सूचना पर छापेमारी करने पहुंचे जिला खनिज अधिकारी व उनकी टीम के बीच ग्रामीणों से जमकर विवाद हुआ। हाईवे किनारे ही उन्हें ग्रामीणों ने घेर लिया। नोंकझोंक के बीच खनिज अधिकारी के सुरक्षा कर्मी का मोबाइल कुछ लोगों ने छीन लिया। किसी तरह मौके से टीम जान बचाकर लौटी।

शिवरामपुर भांगा मोड़ के पास गुरुवार की देर रात को जिला खनिज अधिकारी सुधाकर सिंह पूरी टीम के साथ अवैध खनिज सामग्री ढुलान व ओवरलोडिंग की सूचना पर पहुंचे थे। उन्होंने बताया कि एक पेट्रोल पंप के पास ओवरलोड खनिज सामग्री लदे ट्रक को जांच के लिए पकड़ा। उसका ऑनलाइन चालान भी कर दिया।

इसी बीच ट्रक छोडकर चालक भाग निकला। ट्रक को पुलिस थाने भेजने की प्रक्रिया कर रहे थे तभी ट्रक मालिक कुछ लोगों के साथ आ गया और अपशब्द कहने लगा। पूरे मामले की सूचना भरतकूप व शिवरामपुर पुलिस को दी गई।

गिटटी लदा ट्रक लेकर सुरक्षाकर्मी पुलिस चौकी की ओर आने लगे तो कुछ दूरी पर जाकर ट्रक मालिक कई ग्रामीणों के साथ बीच सडक पर खडा हो गया। इसी बीच दोनों पक्ष के बीच कहासुनी होने लगी। आरोप है कि ग्रामीणों ने ट्रक व जांच टीम पर पथराव किया, लेकिन कोई घायल नहीं हुआ। लगभग एक घंटे तक यह क्रम चलता रहा।

इस दौरान सुरक्षाकर्मियों ने जिला खनिज अधिकारी की ओर बढ रहे ग्रामीणों को रोकने का प्रयास किया तो विवाद होने लगा। सुरक्षाकर्मी का मोबाइल छीन लिया गया है।

मौके पर स्थिति खतरनाक बनते देख खनिज विभाग की टीम किसी तरह जान बचाकर लौट आई। शुक्रवार को जिला खनिज अधिकारी ने बताया कि ट्रक मालिक ने चालान से बचने के लिए यह सब ड्रामा कराया है। मोबाइल अभी तक नहीं मिला है। स्थिति खतरनाक बनने के पहले वह लौट आए हैं। पूरे मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी।

रिपोर्ट: पुष्पराज कश्यप ,चित्रकूट

Click