डी एम साहब इस सरकारी अस्पताल में बीपी सुगर की मशीन ही नही

47

महराजगंज रायबरेली
तेजी से करवट बदलते मौसम के बीच अस्पतालों में ब्लड प्रेशर के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। ऐसे में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में इमरजेंसी मे आये मरीजो के लिए बीपी और सुगर नापने की दोनों मशीनें नही हैं मरीजो को मज़बूरन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के सामने मेडिकल स्टोर से लाकर मरीजो का बीपी नपवाना पड़ता है। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मे रात्रि को इमरजेंसी में इलाज कराने पहुंचे ब्लड प्रेशर और शुगर के मरीजों को बिना जांच कराए ही बैरंग लौटना पड़ता है।
इस माह की शुरूआत से ही सुबह शाम सर्दी के बीच दिन में खिलकर धूप निकलने के दौरान हल्की उमस महसूस की जा रही है। इधर, हल्की बरसात के बाद मौसम के अचानक पलटी मारने से ठंड बढ़ गई। कभी धूप तो कभी बरसात के बीच मौसम तेजी से करवट बदल रहा है। ऐसे में अस्पतालों की ओपीडी और इमेरजेंसी में मरीजों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। खासकर बीपी के मरीज तेजी से बढ़ रहे हैं। रोजाना सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की ओपीडी और इमेरजेंसी में सेकड़ो ज्यादा मरीज ब्लड प्रेशर और शुगर की समस्या के चलते इलाज कराने पहुँचते है। लेकिन इमरजेंसी में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मे बीपी और शुगर नापने की मशीने नही होने के चलते मरीजों की जाँच नही हो पाती और आधे अधूरे इलाज से मरीजो को कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है । वही मरीजों की संख्या बढ़ने की साथ ही अस्पताल में अव्यवस्थाएं हावी होती जा रही हैं। मरीजों की परेशानियों को लेकर अस्पताल प्रशासन गंभीर नहीं है।

अनुज मौर्य/अशोक यादव रिपोर्ट

Advertisement