तूफान बारिश ओलावृष्टि ने मचाई तबाही, टूटी फसलों की कमर

113

● 80 प्रतिशत फसलें हुई चौपट

● प्रभावित किसानों ने की मुआवजे की मांग

रायबरेली। शुक्रवार की शाम आंधी-पानी व ओलावृष्टि ने जमकर तबाही मचाई। आंधी-पानी,ओलावृष्टि के कहर से शिवगढ़ क्षेत्र की 43 सों ग्राम पंचायतों में गेहूं, सरसों,आलू ,मटर की फसलें  चौपट हो गई हैं। विदित हो कि शुक्रवार को तकरीबन शाम 8 बजे अचानक तेज तूफान के के साथ हुई बारिश और ओलावृष्टि ने फसलों की कमर तोड़कर रख दी है। आंधी-पानी और ओलावृष्टि से शिवगढ़ क्षेत्र की बैंती,  भवानीगढ़,शिवगढ़, खजुरों,देहली,कोटवा,दहिगावा,गूढ़ा,नरायनपुर, सराय छात्रधारी, कोटवा, ढेकवा सहित 43 सों ग्राम पंचायतों में लगभग 80 प्रतिशत फसलें नष्ट हो गई हैं। जिसको लेकर किसान चिंता के सागर में डूब गए हैं। गौरतलब हो कि किसानों ने साहूकारों, लंबरदारों, रसूखदारों एवं किसान क्रेडिट कार्ड से ऋण लेने के बाद खून पसीना बहाकर खेत में फसल बोई तो छुट्टा मवेशियों ने अधिकांश फसलें चौपट कर डाली।

दिन में खून पसीना बहाने के साथ ही रतजगा करके किसानों ने जो फसल तैयार की थी वह प्रकृति के कहर से चौपट हो गई। प्रकृति के कहर से प्रभावित किसानों ने शासन से मुआवजे की मांग की है।

Advertisement