फर्जी नाम से रह रही थी बांग्लादेशी महिला अपने पति के साथ ,पुलिस ने गिरफ्तार कर दोनों को भेजा जेल

558

रायबरेली

पिछले कुछ वर्षों में भारी संख्या में पाकिस्तानीऔर बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया गया है,जो बिना विजा और पासपोर्ट अवैध रूप से भारत में आकर रह रहे थे।इस कड़ी में रविवार को पुलिस द्वारा बांग्लादेशि महिला व उसके आदमी को जो अवैध रूप से रायबरेली जिले के गदागंज थाना क्षेत्र के करौली बुधकर में 3 साल के लंबे समय से रह रहे थे। इन तीनो को पुलिस द्वारा गहनता से जाँच करने के बाद गिरफ्तार किया गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गिरफ्तार की गई बांग्लादेशी महिला जो यहाँ पर फर्जी नाम सुमायो बानो के नाम से रह रही थी जिसका असली नाम सुमा अख्तर निवासी पान दिया थाना नवाबगंज ढाका बांग्लादेश की मूल रूप से निवासी थी 3 साल पहले इसकी मुलाक़ात जॉर्डन देश मे इसरार अहमद से हुई जो वहाँ सिलाई का कार्य करता था से दोनों लोगो मे प्रेम हो गया फिर दोनों ने ढाका आकर शादी कर ली वही कुछ दिन रहने के बाद ये लोग रायबरेली आ गए और इसरार अहमद निवासी करौली बुधकर थाना गदागंज के साथ यही रहने लगे वही महिला ने यहाँ पर अपना फर्जी नाम रखकर जाली आधार कार्ड भी बनवा डाला और ये दोनों को साथ साथ रहते 3 साल हो गए उसके बाद पुलिस को सूचना मिली कि कोई महिला गैर कानूनी ढंग से रह रही हैं जिसपर गदागंज थानाध्यक्ष ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सीक्रेट जाँच करना चालू किया तो मामला सही पाया गया और आज पुलिस ने पति पत्नी को पकड़कर उन्हें जेल भेज दिया पुलिस द्वारा किये गए इस बड़ी कार्यवाही की चारो और प्रशंशा की जा रही हैं

अनुज मौर्य रिपोर्ट

Advertisement