बांदा-बहराइच हाईवे पर बने ब्रेकर हो रहे जानलेवा साबित, फिर हुआ दर्दनाक हादसा

387

रायबरेली। हाल ही में शिवगढ़ थाना क्षेत्र के बांदा बहराइच हाईवे पर स्थित भवानीगढ़ चौराहा,गूढ़ा, रानी खेड़ा में लोक निर्माण विभाग द्वारा बनाए गए मानक विहीन ब्रेकर(गति अवरोधक) लगातार दुर्घटनाओं को दावत दे रहे हैं। विदित हो कि बांदा-बहराइच हाईवे बछरावां से लेकर कुम्भी बॉर्डर तक दुर्घटना जोन बन गया है। 2013 – 14 में हाईवे का निर्माण होने के बाद से तेज रफ्तार के कहर के चलते ऐसा कोई सप्ताह नहीं बीतता कि एक – दो दुर्घटनाएं ना होती हों। 2013 – 14 से लेकर अब तक कई दर्जन लोग अपनी जान गवा चुके हैं। हाईवे पर ब्रेकर बनवाए जाने की मांग को लेकर मीडिया द्वारा लगातार प्रमुखता से खबरे प्रकाशित किए जाने के बाद नींद से जागे लोक निर्माण विभाग ने भवानीगढ़, गूढ़ा, रानी खेड़ा में मानक विहीन गति अवरोधक तो बनवा दिए हैं किंतु कहीं भी गति अवरोधक संकेतक बोर्ड नहीं लगवाए गए। आलम यह है कि ब्रेकर बनने के 2 दिन भी नहीं बीते थे कि 3 मार्च को जनता इण्टर कॉलेज के पास बने ब्रेकर पर टेंट के सामान से लदी ट्रैक्टर ट्राली पलट गई जिसमें 2 मजदूर गंभीर रूप से घायल हो गए थे। वहीं 5 मार्च को पुनः इसी ब्रेकर पर बाइक सवार गिरकर गंभीर रूप से जख्मी हो गया गया। 10 मार्च को गूढ़ा गांव का रहने वाला सफाई कर्मी दिनेश कुमार अपने रिश्तेदार की बाइक पर बैठकर बछरावां होली मिलने के लिए जा रहा था तभी रानी खेड़ा में बने ब्रेकर पर उछलकर बाइक से गिर पड़ा जिससे गंभीर हालत में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बछरावां ले जाया गया जहां पर दिनेश की हालत नाजुक देखते हुए जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया, जहां दिनेश की हालत चिंताजनक बताई जा रही है। यही नहीं ब्रेकर बनने के बाद से डेढ़ सप्ताह के अंदर आधा दर्जन से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हो चुके हैं। किंतु लोक निर्माण विभाग अभी नींद से नहीं जागा है। लगता है उसे किसी बड़ी अनहोनी का इंतजार है।

रेडियम युक्त ब्रेकर एवं गति अवरोधक संकेतक लगवाए जाने की मांग

शिवगढ़ क्षेत्र के जागरूक भाजपा नेता नंदकिशोर तिवारी, युवा समाजसेवी विपिन सिंह उर्फ अन्नू सिंह, कांग्रेस के जिला संगठन सचिव दिनेश यादव, गूढ़ा प्रधान रामहेत रावत, भवानीगढ़ प्रधान प्रतिनिधि अखिलेश कुमार शुक्ला, नीरज शुक्ला, भानु प्रकाश पटेल, मायाराम रावत, लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष संजय रावत, समाजसेवी बबलू रावत, समाजसेवी अखिलेश सिंह पटेल, बख्तावर नगर गांव के रहने वाले अजय कुमार रावत सहित दर्जनों लोगों ने मीडिया के माध्यम से लोक निर्माण विभाग से बांदा बहराइच हाईवे पर रेडियम युक्त ब्रेकर एवं गति अवरोधक संकेतक बोर्ड लगवाए जाने की मांग की है। लोगों का कहना है कि जिस तरह से हाईवे एवं हाईवे से जुड़े संपर्क मार्गों पर मानक विहीन गति अवरोधक बनाए गए हैं और कहीं भी गति अवरोधक संकेतक नहीं लगवाए गए हैं, राहगीरों का दुर्घटना का शिकार होना लाजमी है। जल्द ही बांदा बहराइच हाईवे पर रेडियम युक्त गति अवरोधक एवं संकेतक बोर्ड नहीं लगवाए जाने पर लोगों ने आंदोलन की चेतावनी दी है।

Advertisement