बालिकाओं ने बाल विवाह, भ्रूण हत्या के खिलाफ रैली निकाली

4
  • राष्ट्रीय बालिका दिवस पर बालिकाओं ने माँगा बराबरी का अधिकार

  • नुक्कड़ नाटक के ज़रिए बालिकाओं को शिक्षा के प्रति किया जागरूक

रोहनियाँ/राजातालाब, वाराणसी। आशा ट्रस्ट व लोक समिति के तत्वावधान में राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर मंगलवार को भिखमपुर गाँव में बालिकाओं ने भ्रूणहत्या, दहेज व बाल विवाह के खिलाफ रैली निकाली।

रैली में शामिल लड़कियां बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, नजरे नही झुकना है आगे बढ़ते जाना है, भ्रूणहत्या बंद करो,बाल विवाह बंद करो, तिलक दहेज़ बन्द करो, आदि नारे लगा रही थी।

रैली में शामिल लड़कियों ने मुख्यमंत्री से दहेज लोभियों, व गर्भ में लड़कियों को मारने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने और लड़कियों को बेहतर सुविधा की माँग किया।

इस दौरान भीखमपुर, असवारी और कनकपुर गाँव में प्रेरणा कला मंच के कलाकारों ने नुक्कड़ नाटक कमला का कमाल और बढ़िए और बढाइये के माध्यम से बालिकाओं को स्कूल जाने के लिये जागरूक किया।

लोक समिति संयोजक नंदलाल मास्टर ने कहा कि जब तक समाज जागरूक नही होगा लड़कियों पर अत्याचार होता रहेगा,। दहेज, बाल विवाह व कन्या भ्रूण हत्या समाज में अभिशाप है, इसे जड़ से मिटाना होगा, जिसके लिये महिलाओं को आगे आना होगा।

उन्होंने ने बताया कि गाँव गाँव से लड़कियों ने उनको शिक्षा की बेहतर सुविधा के लिये मुख्यमंत्री को पोस्ट कार्ड लिखकर भेजा है।

कार्यक्रम का संचालन किशोरी संयोजिका सोनी ने किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से आशु,अंजली, पूनम,सपना,प्रियंका,बेबी,सोनी,अजीत, सुजीत,मुकेश झंझरवाल, पारस, रंजीत अजय,मिलन, सुरेंद्र, आदि लोग शामिल रहे।

राजकुमार गुप्ता

Advertisement