बेजुबानों के लिए भी सहारा बनी पुलिस

55

भदोही। – जहां एक तरफ पुलिसकर्मी लोगों के खाने का ध्यान रख रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ बेजुबानों का ध्यान रखने में भी कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। तस्वीरे भदोही जनपद की हैं जहां ट्रैफिक पुलिसकर्मी बंदरों को फल खिलाते नजर आ रहे है। दोनों पुलिस कर्मी भारी मात्रा में अंगूर और केला लेकर गोपीगंज पहुंचे और कई दिनों बाद बंदरों को कुछ खाने को मिला।

कई जगहों पर खिलाया फल

कोरोना वायरस से छिड़ी जंग में स्वास्थ्य कर्मियों के बाद अगर कोई सबसे बड़ी लड़ाई लड़ रहा है तो वह हैं पुलिसकर्मी, इस दौरान वो इंसानों से लेकर बेजुबानों तक का ध्यान रख रहे है। आम दिनों में तमाम स्थानीय लोग बंदरों को फल और चने खिलाते थे, लेकिन इन दिनों बंदरों को दो वक्त का खाना खिलाने वाला कोई नहीं है। जिस वजह से बड़ी संख्या में बंदर भूखे हैं।

वानरों को फल दे रहे पुलिसकर्मी

बंदरों की मदद के लिए अब भदोही यातायात प्रभारी शशिकांत यादव और यातायात विभाग में तैनात ओंकार सिंह सामने आए हैं। दोनों पुलिस कर्मी आज भारी तादाद में अंगूर और केला लेकर गोपीगंज पहुंचे और कई दिनों बाद बंदरों को कुछ खाने को मिला। यह नजारा देख वहां के लोगों के चेहरे पर भी मुस्कान खिल गई है।

लोगों की भी मदद कर रही भदोही पुलिस

लॉकडाउन होने की वजह से जहां एक तरफ कई गरीब तबके के लोगों के पास राशन खत्म हो गया है। इनकी मदद के लिए सरकार के साथ समाज के कई समाजिक संगठन मदद के लिए आगे आ चुके हैं। पुलिस ने कई इलाकों में गरीबों तक राशन भी पहुंचाया है। काशीराम आवासीय कालोनी में करीब 100 लोगों को जन सहयोग से राशन वितरण किया गया है।

Advertisement