सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं में लगा जंग

33

प्रतापगढ़- जनता जनार्दन के लिए शोपीस बनकर रह गई सरकार की योजनाएं मामला मांधाता ब्लॉक के कई गांव का कई गांव में घोटाले भ्रष्टाचार पत्रकारों द्वारा लगातार उजागर किया गया है लेकिन जिम्मेदार अधिकारियों की कुंभ करणी नींद अभी खुली नहीं है

गांव के बिकास के लिए आ रहा सरकारी धन केवल कागजों तक सिमट कर रह गया है कागजों की खानापूर्ति कर रहे कर्मचारियों अधिकारियों की पोल खोल कर रख दिया जा रहा है धरातलपर पर सरकारी योजनाओं में बड़ा भ्रष्टाचार सामने आया है मांधाता ब्लाक के कई गांवों में।


ये भ्रष्टाचार सफेदपोश नेताओं की कृपा पर फलफूल रहा है सफेदपोश नेताओं के करीबियों के ऊपर अब तो बाबा के बुलडोजर की हिम्मत नहीं पड़ती है

मान्धाता ब्लॉक में भ्रष्टाचार करवाने का ठेका भी कई तथाकथित दलालों ने ले रखा है बिकास के लिए भेजे गये सरकारी धन में बन्दर बांट करने वाले लोग सक्रिय हैं सुबह से शाम तक मान्धाता ब्लाक में अधिकारियों कर्मचारियों की जी हुजूरी चरण वंदना परिक्रमा करके अपना पेट भरते हुए देखे जाते हैं

न बिज्ञापन न टेंडर सामान की सप्लाई धड़ल्ले से हो गई क्योंकि चरण वंदना परिक्रमा में बड़ी ताकत होती है


गांवों में बेंच डेस्टबिन सूखा कचरा गीला कचरा पोल में लाईट आदि सप्लाई धड़ल्ले से बाजार भाव कुछ अलग लेकिन कमीशनखोरी के चलते सप्लाई किए गये सामानों का रेट अलग जिलाधिकारी प्रतापगढ़ के आदेश को नहीं मानते अधीनस्थ जिलाधिकारी प्रतापगढ़ का सीधा फरमान सबसे पहले बिज्ञापन के लिए आदेश ले उसके बाद पहले कराते बिज्ञापन जिसको मिले टेंडर वही करें आई यस आई ब्रांड सामानों की ठेकेदार सप्लाई लेकिन मान्धाता ब्लाक में चलता है कुछ अलग फरमान

जिलाधिकारी प्रतापगढ़ डा नितिन बंसल क्या ऐसी संचालित फर्मों का कराएंगे जांच जिनका धरातल पर नहीं है कोई वास्ता और सरोकार लाखों लाख रुपए में किया गया है मांधाता ब्लॉक में पेमेंट एसे लोग हों गए हैं करोड़पति वही रोजगार सेवक ग्राम प्रधान के सगे संबंधी ग्राम विकास अधिकारियों ने तथाकथित ठेकेदारों व सगे संबंधियों ने पंचायती राज नियमावली की तोड़ दी है कमर और करदी है सारी हदें ऐसे लोगों पर कब होगी कार्यवाही कार्यवाही के इंतजार में गरीब मजलूम निरीह जनता जनार्दन*

उत्तर प्रदेश के भदोही जनपद के जिलाधिकारी द्वारा ब्लॉक मुख्यालयों पर फर्जी फर्मो की हो चुकी है जांच जांच के बाद कई ठेकेदार जा चुके हैं जेल अब प्रतापगढ़ जनपद के जिलाधिकारी से बड़ी उम्मीद धरातल पर कराएं फर्जी फर्मो की जांच जांच में हो दूध का दूध पानी का पानी गांवों के विकास के लिए भेजे जा रहे सरकारी धन में हो रहे भ्रष्टाचार पर कब होगी कार्यवाही पूछती है जनता जनार्दन

वही मांधाता ब्लाक में तैनात खंड विकास अधिकारी अरूण कुमार मीडिया के कैमरे से नहीं होते हैं रूबरू नहीं देना चाहते है कोई जबाव जबकि ब्लाक डेवलपमेंट अफसर की होती है नैतिक जिम्मेदारी ऐसे भ्रष्टाचार के मामले में दूरभाष पर देते हैं गोलमाल जवाब
-अवनीश कुमार मिश्रा प्रतापगढ

Advertisement