मजदूरो पर केमिकल डालने से गरमाई सियासत, प्रियंका ने बोला हमला

118

बरेली में दिल्ली, नोएडा, हरियाणा, उत्तराखंड समेत कई राज्यो से आये सैकड़ो लोगो की ज़िंदगी के साथ खिलवाड़ किया गया। लोगो को बस स्टैंड पर सड़क पर बैठा कर उनके ऊपर कैमिकल की बारिश की गई। इस दौरान कुछ लोगो और बच्चो की आंखों में जलन होने लगी।

फायर ब्रिगेड से सड़क पर बैठे लोगो पर कैमिकल की बारिश का ये नजारा बरेली के सेटेलाइट बस स्टैंड का है। जहां गरीबो की ज़िंदगी के साथ खिलवाड़ किया गया। दरअसल कल ही बरेली में कोरोना का पहला पोसिटिव मरीज मिला था जिसके बाद आनन फानन में ऐसी सभी जगहों को सेनेटाइज किया गया जो संक्रमित हो सकते है। जिस वजह से ट्रैफिक पुलिस और फायर ब्रिगेड विभाग की टीम ने सेटेलाइट पर केमिकल से धुलाई की। इस दौरान वहां देश भर से आये लोगों को सड़क पर बैठा दिया गया और कह दिया गया की सभी लोग आंखे बंद कर ले। जिसके बाद सभी पर केमिकल से बारिश कर दी गई। इस दौरान कई लोगो की आंखों में भी सोडियम हाइपोक्लोराइड कैमिकल चला गया। जिससे लोगो की आंखों में जलन होने लगी।

भगवान जिंदगी दे तो गरीबी ना दे क्योंकि गरीबी इस दुनिया का सबसे बड़ा अभिशाप है। गरीब होना सबसे बड़ा पाप है और शायद ऐसा ही कोरोना वैश्विक महामारी कि संकट की घड़ी में देखने को मिल रहा है। जहां विदेशों में फसे लोगों को सरकार ने हवाई जहाज से सैकड़ो किलोमीटर दूर से हिंदुस्तान बुला लिया लेकिन गरीब लोगो के लिए सरकार उनके घरों तक पहुचाने का प्रबंध भी नही कर सकी।

बरेली की घटना पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा का ट्वीट

मामले ने प्रियंका के ट्वीट के बाद राजनीतिक तूल पकड़ लिया और लोग सरकार को आड़े हाथों लेने लगे।

यूपी सरकार से गुजारिश है कि हम सब मिलकर इस आपदा के खिलाफ लड़ रहे हैं लेकिन कृपा करके ऐसे अमानवीय काम मत करिए।

मजदूरों ने पहले से ही बहुत दुख झेल लिए हैं। उनको केमिकल डाल कर इस तरह नहलाइए मत। इससे उनका बचाव नहीं होगा बल्कि उनकी सेहत के लिए और खतरे पैदा हो जाएंगे।

Advertisement