युवक की अस्पताल में हुई मौत, परिजनों ने काटा हंगामा

52

पिटाई से युवक को आई गंभीर चोटें, इलाज के अभाव में अस्पताल में तड़पता रहा युवक

डॉक्टर की लापरवाही से चली गई घायल युवक की जान

लालगंज (रायबरेली)। मामा के घर जाने की बात कहकर दो दिन पहले घर से निकले युवक को गंभीर दशा में लालगंज अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी मौत हो गई। परिवारजनों ने चिकित्सकों पर उपचार में लापरवाही बरतने का आरोप लगाकर हंगामा काटा। बताया गया है कि ग्राम बरदर थाना गुरूबख्शगंज निवासी अंकित पांडेय (25) पुत्र रामबाबू पांडेय चिलौला गांव निवासी मामा पुत्तन द्विवेदी के घर जाने के लिए शनिवार को निकला था। लेकिन सोमवार को वह पीरअलीपुर गांव के सामने गंभीर दशा में पड़ा मिला।108 एंबुलेंस उसे लेकर सीएचसी लालगंज पहुंचाया।जहां से उसे इलाज के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया लेकिन साथ में किसी के न होने के कारण वह अस्पताल में ही पड़ा रहा। जहां दो घंटे बाद उसकी मौत हो गई। मृतक के भाई मनोज कुमार ने अज्ञात लोगों पर अंकित की पिटाई कर उसके पास से रूपये छीनने का आरोप लगाया है। मृतक एक पुत्र स्वास्तिक (5) का पिता था। उसकी मौत पर माता सरोजनी आदि का रो-रो कर बुरा हाल है।अंकित की मौत की जानकारी मिलते ही अपर पुलिस अधीक्षक नित्यानंद राय, प्रभारी निरीक्षक आईपीएस पलाश बसंल, निरीक्षक राजकुमार पांडेय मौके पर पहुंचे और शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। मृतक के परिजनों द्वारा इलाज में लापरवाही का आरोप लगाने पर एडिशनल एसपी ने मामले की जांच कराने की बात कही है। उनका कहना है कि मौत के सही कारणों का पता पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही चल सकेगा।

संदीप कुमार फिजा रिपोर्ट

Advertisement