योगी सरकार में सुरक्षित नहीं हैं पत्रकार, मारपीट और जान से मारने की धमकी

12

अयोध्या। पत्रकार अंकुर पांडे को जान से मारने की धमकी मिली। धमकी गैंगस्टर एवं भू माफियाओं के खिलाफ खबर चलाने पर मिली। खबर चलाने पर पत्रकार को जान से मारने की मिली धमकी। हथियारों से लैस बदमाश बच्चा पांडे ‘विशाल एवं चीकू वा उनके साथियों द्वारा दी गई धमकी।

धमकी चक्रतीर्थ निवासी बच्चा पांडे एवं विशाल पांडे एवं चीकू पांडे, जो कि अपराधी किस्म के लोग हैं । गैंगस्टर गुंडा एक्ट के तहत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज है और जेल भी जा चुके हैं।

खबर चलाने पर पत्रकार अंकुर पांडेय को हथियारों से लैस बदमाश लोगों ने मारपीट की। और जान से मारने की धमकी दी। आनन-फानन में पत्रकार अंकुर पांडेय थाना राम जन्मभूमि में तहरीर दिया ।।अभी तक नहीं हुई कोई कार्रवाई जान माल का खतरा बना पुलिस से मिला आश्वासन जल्दी होगी कार्रवाई।

इसके अलावा तारुन में भी दो तीन पत्रकार अराजक तत्वों के द्वारा धमकी का शिकार हो रहे हैं। संजीव पाठक ने कोई खबर चलाई थी। आरा मशीन की उसी सिलसिले में कोई इनको धमकी दे रहा है तो कोई मिलने के लिए समय निर्धारित कर रहा है। इसका भी कोई निस्तारण होना चाहिए।

अगर इस तरह से अवैध कार्य हो रहे हैं तो पत्रकार अवैध कार्य को उजागर करने के लिए ही काम करते हैं उसके बाद उन्हें धमकी मिलती है प्रशासन भी उस पर लोड नहीं लेता क्या प्रशासन से पत्रकारों की दोस्ती है या दुश्मनी क्या कारण है कि पुलिस पत्रकारों के मामले में उदासीन बनी रहती है।

यदि पत्रकारों का उत्पीड़न बंद नहीं हुआ तो पत्रकार सारे संगठन मिलकर प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल देंगे उक्त बातें ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के जिला संगठन मंत्री मनोज तिवारी ने कही।

रिपोर्ट- मनोज तिवारी

Click