लॉक डाउन में घर के अंदर क्या क्या कर सकते है ?

84

कोरोना वायरस पूरी दुनिया पर खौफ बनकर छाया है। भारत मे भी संक्रमण के कई केस सामने आए हैं। चूंकि अभी तक वायरस की कोई दवा या वैक्सीन नही बनी है ऐसे में सरकारों ने 21 दिन का लॉक डाउन कर दिया है, जिसमे आप सिर्फ इमरजेंसी में ही बाहर निकल सकते हैं सरकारें आपकी जरूरत का हर सामान आप तक ख़ुद पहुँचायेगी। फिलहाल भारत की 130 करोड़ जनता के मन मे इस वक्त एक ही सवाल है कि आखिर इतने दिन कैसे कटेंगे। चलिए हम बताते है कि आपको क्या करना है जिससे इस समय का सदुपयोग कर सकते हैं।

1. सबसे पहले अपने मोबाइल को कम से कम 6 से 8 घण्टे रोज बन्द करिए या साइलेंट मोड़ में लगा कर एक निश्चित समय बाद ही देखिये और जो जरूरी हो उन्हें उत्तर दीजिये। बिल्कुल मत सोचिए कि कोई बीमार होगा और आपको मदद के लिए काल करेगा। क्योंकि इस समय सरकार उनके स्वास्थ्य को लेकर आपसे ज्यादा गंभीर है।

2. अपनी कपड़ो और पेपर की आलमारी खोलिए। उन्हें बाहर फैला दीजिये। मौसम बदल चुका है उसमें चुनिए कौन से कपड़े आप के लिए आवश्यक है और कौन से ऑफ़ सीजन हैं। उन्हें अलग अलग करिए। सलीके से लगाइए फिर अलमारी साफ कर के उसमे प्यार से एक एक सेट लगा दीजिये। इसके बाद आप अपने पढ़ाई के समय से लेकर नौकरी और बैंक के कागज जो इधर उधर पूरे घर मे फैले रहते हैं उन्हें सहेजिये। आवश्यक की फ़ाइल बनाइये और अनावश्यक को नष्ट कीजिये। ऐसे में आपको इस बात का भी ध्यान रखना है कि आज कबाड़ की दुकान को कैसे सहेज रहे है और क्या कहाँ रख रहे है आपको भी याद रहे। ये काम एक्सर सोचते सोचते सन्डे से मंडे और फिर वापस सन्डे आ जाता है।

3. घर वालो के साथ वक्त गुजारे। इस भाग दौड़ की प्रैक्टिकल लाइफ में हम अपनो से कितना दूर हो गए थे। इस पर भी विचार कीजिये। और इस वक्त उनके लिए सांसे लीजिये उनके लिए जी कर देखिये। जैसे अगर बुजुर्ग है तो उनसे अपने पढ़ाई/शादी/धर्म या किसी ऐसे समय की कहानियों पर ठहाके लगाइए जो कभी ताजी थी और आज लगभग गुम सी हो गई है। उनकी सेहत के बारे में बात कीजिये। उनके कपड़ो के बारे में बात कीजिये। उनके चलने फिरने और घर को घर कैसे बनाया है उस एक्सपेरियन्स को भी महसूस करिए। आपको उस समय अच्छा फील होगा।

4. रोज सुबह एक लाटरी निकाल कर तय करिए आज के लिए घर मे सीनियर कौन रहेगा (कोई बच्चा भी सीनियर बन सकता है) जो सिर्फ काम बताएगा। और एक बन्दा चुनिए जो किचन सम्भालेगा। बाकी लोग सिर्फ मदद करेंगे। इस तरह की स्थिति में मेल फीमेल में भेद न करिए। फिर ऐसे माहौल में सबकी पसंद का एक डिश रोज बनाए और एन्जॉय करें।

5. टीवी तो आप रोज देखते हैं अब भजन देखिये बल्कि कुछ प्रवचन देखिये लेकिन उसमे सब साथ हो जब बच्चे परेशान हो तो कार्टून भी सब साथ मे देखे। ऐसे में बूढ़े और बच्चो दोनों को कम्पनी मिलेगी। भजन तेज तेज साथ मे गुनगुनाइए इससे लंबी सांस लेंगे आप और गला भी साफ होगा।

6. बच्चो के साथ खाना पकाना खेले और उनकी चुपचाप मदद करें उन्हें ये एहसास दिलाएं की सब कुछ वही कर रहे हैं। ऐसे में वो आपसे कनेक्ट रहेंगे।

7. बच्चो से पढ़ाई की शुरुआत करते समय कहे चलो दादी मां की फ़ोटो बनाओ या उनकी रुचि के अनुसार ही शुरू करें। और जब वो पेन पेंसिल लेकर बैठे तो हौले से उनको कुछ सब्जेक्ट दे दें। इस तरह उनके साथ घुले मिले रहने से भी समय व्यतीत हो जाएगा।

8. अपने घर पर पेंटिंग के लिए कलर चूज करें। और पूरे घर की राय ले जैसे अभी तुरन्त पेंटिंग होने जा रही है। खिड़की से लेकर दीवारों तक के कलर चुने। इससे जब कभी आप पेंटिग करवाएंगे तो आसानी रहेगी।

9. योग से शरीर निरोग रहता है। प्रतिदिन योग करें साथ मे बड़े और बच्चो को भी बिठायें। अगर योग के स्टेप नही आते है तो यूट्यूब में देखें। एक बात का ध्यान रहे उम्र के हिसाब से जो आसान लगे वही तक करें बाकी छोड़ दें।

11. सरकार की घोषणाओं और कोरोना वायरस पर भी अपडेट रहें और परिवार के लोगो को विस्तार से बताते रहें।

10. डायरी लिखें। अपने ऑफिस काम और पढ़ाई के वक्त की कुछ ऐसी बातें जो आप दुनिया के साथ साझा नही कर सकते। उसमे अपने बॉस या ऑफिसर या दोस्तो के बारे में भी ये मानकर भड़ास निकाले कि इस वक्त आप का वो कुछ नही कर सकते।

11. फूलों के गमले रोजाना उठ कर सही करें। उनमें होने वाले बदलाव को महसूस करें। प्रकृति के करीब जाकर आपको बेहतर अनुभव मिलेगा।

12. बुजुर्गों से पुराने इंडोर खेल सीखें और उनको फिर से उनको साथ लेकर खेले। उन्हें चैलेंज करें और उनको ही हरायें।

13. फ़ोन में आपके निजी फ़ोटो के अलावा wahstapp के जरिये बहुत से अनचाहे फ़ोटो भी स्टोर रहते हैं उन्हें ढूंढ कर डिलीट करें।

14. दोस्तों का एक ग्रुप बना ले जिनमे रोज की दिनचर्या की फ़ोटो शेयर करें। और अगले दिन के किये टास्क ले।

15. परिवार के साथ सांप सीढ़ी, कैरम और लूडो उपलब्धता के अनुसार खेले।

16. पूरे घर को उलट पुलट दें फिर सबकी मदद से नए तरीके से सेट कर के समान बेड आदि लगाएं।

17. गाना गायें, अंताक्षरी खेले, और डांस करें। इस सबके लिए कुछ स्नैक्स बीच मे रख ले और म्यूसिक सिस्टम्स की अनुप्लब्धता पर मोबाइल से ही बजाएं।

18. ताश खेले लेकिन ध्यान रहे इसमे जुआ न हो।

19. घर के सभी जरूरतों की लिस्ट बना ले और जैसे ही सरकारी सहायता की किराने की या सब्जी की गाड़ी आये तुरन्त आप उससे ले लें।

20. घर मे खराब हो चुके समान को इकट्ठे कर लें जिससे कबाड़ी के आने पर मोलभाव कर इस कूड़े का निस्तारण हो सके।

21. एलक्ट्रिक के बोर्ड में बदलने लायक स्विच/लाइट/ पंखा काउंट कर के लिख लें और लटक रहे तारों को ठीक कर दें।

22. फटे पुराने कपड़ों से बच्चो के लिए खिलौने और सजावट का सामान बना डालें। यूट्यूब में ऐसे आपको बहुत लिंक मिल जाएंगे।

इस तरह पॉजिटिव रहें और घर मे माहौल पॉजिटिव रखें।

Advertisement