वाह भई वाह । मोदी के आगमन को तैयार हो रहे चित्रकूट के निर्माण में गडबडझाला

136

 

 विकलांग विश्वविद्यालय तक का पानी संकरी नाली में डालने का हो रहा है प्रयास 

चित्रकूट। महीने के अंतिम दिन चित्रकूट की धरा पर प्रधानमंत्री मोदीजी का आगमन हो रहा है। उनका कामदगिरि परिक्रमा के मुख्य द्वार के साथ ही मंदाकिनी गंगा के दर्षन के लिए रामघाट जाने का कार्यक्रम बनने की संभावना है। उनके आगमन की तैयारियों की बात करें तो यह कच्छप गति से चल रही हैं। अगर तैयारियां कच्दप गति सेे चल रही होती तो बात और थी, यहां तो लोक निर्माण विभाग के अधिकारी तैयारियों की जगह आम लोगों के सामने मुसीबत पैदा करने का प्रयास करते दिखाई दे रहे हैं। भाजपा नेताओं की मानें तो प्रधानमंत्री जी की रैली के लिए योगी जी ने दो लाख लोगों के लाने का लक्ष्य रखा है। ऐसे में जब लोक निर्माण विभाग व अन्य विभागों के अधिकारी आम लोगों को लगातार परेशान करने का प्रयास कर रहे हैं तो उनकी रैली में कुछ भी हो सकता है। आजकल हर व्यक्ति स्मार्ट मोबाइल से लैस होकर टिवटर व फेसबुक पर सब कुछ अपलोड कर प्रधानमंत्री तक पहुंचा रहा है। लेकिन अधिकारी हैं कि प्रदेश सरकार व केंद्र सरकार की छवि खराब करने का काम कर रहे हैं।  

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट बेडीपुलिया से लेकर रामघाट तक फोर लेन सड़क निर्माण का काम योगी सरकार में तेजी से चलाया जा रहा है। पांच साल में 5 किलोमीटर सड़क न बना पाए लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों का खेल आम लोगों के लिए लगातार दिक्कत पैदा कर रहा है। वर्षों से चित्रकूट आने वाले यात्रियों के लिए दिक्कतदेह बनी सड़क का निर्माण जब अपने अंतिम दौर में है तो विभाग अब स्थानीय लोगों के लिए मुसीबत पैदा करने का कोई अवसर छोड़ नही रहा है। ताजा मामला पर्यटक आवास गृह के पीछे की बस्ती का है। राघवपुरी, मलकाना रोड के सामने बनाई जा रही नाली का मुंह सीसी रोड में मोडने का प्रयास विभाग कर रहा है। स्थानीय लोगों ने द्वारा जब जिलाधिकारी को पत्र देकर बताया गया कि छोटी सी नाली में बड़े नाले का पानी डालने का प्रयास किया जा रहा है, तो वह चैंके और कहा कि ऐसा नही होना चाहिए। विभाग के अवर अभियंता कमल किशोर से जब इस मामले में बात की, तो उन्होंने अपनी अनिभिज्ञता जाहिर की। यह तो अभी निर्णय नही हो पाया है कि पर्यटक आवास गृह और जयपुरिया की तरफ से आने वाले नाले को किस तरफ लेकर जाएंगे, पर अधूरा नाला अभी तक मोहल्ले के लोगों को डराने का काम कर रहा है। 

मोहल्ले के रहने वाले संदीप रिछारिया, राकेश कुमार, संतोष कुमार, अमित गोस्वामी,सलीम खान, राजेंद्र कुमार मिश्रा, राम प्रकाश श्रीवास्तव , बिंदा प्रसाद, करीम मुल्ला आदि ने जिलाधिकारी को पत्र देकर पूरी समस्या से अवगत कराया तो उन्होंने तत्काल समस्या के निराकरण का भरोसा दिलाया।   

Advertisement