शाशन व जिलाधिकारी की बात नही मानते प्राइवेट विद्यालय

95

रायबरेली-कोरोना वायरस (Coronavirus, COVID-19) संक्रमण में तेजी से बढ़त को देखते हुए देश के कई राज्‍यों में स्‍कूलों को बंद करने का ऐलान कर दिया गया है। इस क्रम में राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली ,उत्‍तराखंड, छत्‍तीसगढ़ ,ओडिशा, हरियाणा, बिहार, उत्‍तर प्रदेश और मणिपुर ने शुक्रवार को राज्‍यों में तमाम स्‍कूलों और कॉलेजों को एहतियातन बंद करने का ऐलान कर दिया। देश भर में इस वायरस के कारण संक्रमण की संख्‍या में इजाफे को देखते हुए यह फैसला लिया गया है।

तो वही लखनऊ में कोरोना रोकने के लिए आउटब्रेक रिस्पांस कमेटी का गठन, बीमारी छिपाने या सहयोग न करने पर आईपीसी की धारा 188 के तहत दर्ज होगा मुकदमा, शासन ने बनाई कमेटी।

उत्‍तर प्रदेश समेत कई राज्‍यों में शिक्षण संस्‍थान बंद

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्‍यक्षता में कोरोना वायरस को लेकर बैठक की गई। इसके बाद सरकार ने ऐलान किया कि 22 मार्च तक राज्य के सभी स्कूलों में छुट्टी घोषित की। वही जो परीक्षा स्कूलों में चल रही है उन्हें भी रद्द करने का आदेश जारी किया गया हैं वही दूसरी ओर रायबरेली की जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने भी सख्त निर्देश देते हुए स्कूलों को बंद करने के निर्देश जारी किए है लेकिन जिले में कई प्राइवेट स्कूलों ने किसी का आदेश न मानते हुए स्कूलों को खोल रखा है इस बहाने की पेपर चल रहे हैं जबकि ये सख्त आदेश सभी सरकारी ,गैर सरकारी व अन्य शिक्षण संस्थान 1 से 8 तक कि क्लास बंद रखनी ही हैं के निर्देश दिये गए है अब देखना ये होगा ऐसे स्कूलो में अधिकारी क्या कार्यवाही करते भी हैं या नही ये तो आने वाला वक़्त ही बताएगा।

अनुज मौर्य रिपोर्ट

Advertisement