संतुलित आहार सुखमय स्वस्थ जीवन के लिए वरदान है : डॉक्टर सुभाष चंद्र श्रीवास्तव

55

रायबरेली। दयानन्द बछरावां पीजी कॉलेज में एनएसएस यूनिट द्वारा संतुलित आहार एवं पोषण का शिविर आयोजित किया गया। शिविर में महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. सुभाष चंद्र श्रीवास्तव ने संतुलित आहार और पोषण के महत्व को बताते हुए कहा कि “संतुलित आहार सुखमय स्वस्थ जीवन के लिए वरदान है। नवजात शिशु अपना पोषण मां से लेता है इसलिए हर मां का स्वस्थ रहना आवश्यक है। स्वस्थ रहने के लिए संतुलित आहार आवश्यक है। एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी डॉक्टर शालिनी श्रीवास्तव ने बताया कि संतुलित आहार से ही व्यक्ति बीमारियों से दूर रह सकता है। जिससे वह देश वा समाज के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकता है। गृह विज्ञान विभागाध्यक्ष सुब्रता सक्सेना ने छात्राओं को अपने व्याख्यान बताया कि कुपोषण एनीमिया से बचने का एक मात्र साधन संतुलित आहार है।

इस शिविर के अवसर पर डॉ. भावना शुक्ला व डॉ. अर्चना से एनएसएस के छात्र छात्रा  शाहनवाज, प्रदीप, रुबी, प्रिया सिंह ने संतुलित आहार के संदर्भ प्रश्न पुछे जिसका उत्तर पर्याप्त हुआ। उक्त अवसर पर महाविद्यालय की गृह विज्ञान विभाग से संबंधित छात्राएं भी उपस्थित रही।इस अवसर पर  सुखबीर सिंह भूपेंद्र श्रीवास्तव, अजय ,योगेंद्र वा दिलीप ने शिविर संचालन में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की।

Advertisement