स्वाभिमानी लोग ही संघर्ष की भाषा समझते हैं : लक्ष्य

55
IMG-20200315-WA0277

बहादुर नगर में हर्षोल्लास से मनाई गई काशीराम जयंती

रायबरेली।  शिवगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्रामसभा बहादुर नगर में बड़े ही हर्षोल्लास पूर्वक बहुजन नायक मान्यवर कांशीराम साहब का 86 वां जन्मदिन मनाया गया।  कार्यक्रम का शुभारम्भ महापुरुषों के चित्रों पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलित से किया गया। इस मौके पर भारतीय समन्यव्य संगठन लक्ष्य टीम ने उपस्थित जन सैलाब को संबोधित करते हुए कहा कि भारत देश आज ऐसे नाजुक दौर से गुजर रहा है जिसमें सुनियोजित भ्रष्टाचार, कृतिम बेरोजगारी, जातिवाद, सम् प्रदायिकता व महिलाओं पर अत्याचार जैसी तमाम गम्भीर समस्याएं विकराल रूप धारण कर चुकी हैं। आजादी के 72 वर्ष बाद भी बहुजन अपनी मूलभूत आवश्यकताओं व मौलिक अधिकारों से वंचित व चिंतित है। सन 1947 में मात्र 15 प्रतिशत लोगों को ही आजादी मिली और 75 प्रतिशत बहुजन समाज आजादी के 72 वर्ष बाद भी जातीय भेदभाव व अत्याचार का शिकार हुआ है। ऐसे हालात में बहुजन समाज के पढ़े-लिखे एवं समझदार लोगों की जिम्मेदारी बनती है कि वह उपरोक्त लक्ष्य की प्राप्ति के लिए संघर्ष की प्रक्रिया तेज करें ताकि फुले-आंबेडकर कारवां को मंजिल तक पहुंचाया जा सके। इसी उद्देश्य से भारतीय समन्वय संगठन  देश के सुदूर गांव-गांव में लगातार 20 वर्षों से महापुरुषों की विचारधारा से बहुजन समाज को परिचित करा रहा है।

इसी के साथ-साथ लक्ष्य टीम ने अंधविश्वास पर अपने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से उपस्थित जन सैलाब को अंधविश्वास से बाहर निकलने के लिए जागरूक किया।कार्यक्रम का सफल संचालन आलोक बौद्ध कर रहे थे।इस मौके पर गायक खुशीराम हिठ्ठी व युवा गायक कुलदीप बौद्ध ने अपने गीत भीम के दीवाने, हम भीम के दीवाने जैसे गीतों से लोगों का मन मोह लिया। इस अवसर पर भंते विमल बोधि, रामबरन बौध्द, बंसीलाल लाल चौधरी, दिनेश चौधरी, राम आसरे, शिवनारायण गौतम, मुंशी पुलिया, सुरेंद्र रावत, रामदास रावत, पवन गौतम, विजय बहादुर, सत्यपाल चौधरी, अनु वर्मा, रामदेव वर्मा प्रधान, शत्रुघ्न गौतम जिला पंचायत सदस्य, जगजीवन , राम सुमिरन, किशनपाल, हरिपाल, बबलू, हुबलाल सहित सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित रहे।

Advertisement