हर्षोल्लास निकाला गया ईद मिलादुन्नबी का जुलूस ए मोहम्मदी

63

अयोध्या। अयोध्या के बीकापुर कोतवाली क्षेत्र में बृहस्पतिवार को ईद मिलादुन्नबी के अवसर पर विभिन्न स्थानों पर जुलूस ए मोहम्मदी हर्षोल्लास के माहौल के साथ धूमधाम से निकाला गया।

कोतवाली क्षेत्र के कस्बा बीकापुर, खजुरहट, गंडई, कोछा बाजार, मौरावा, सोनखरी, दराबगंज, चौरे बाजार, काजी सराय सहित विभिन्न स्थानों पर जुलूस में आपसी भाईचारा और सौहार्द देखने को मिला। कई जगह पर तिरंगे झंडे के साथ जुलूस निकाला गया। वतन की सलामती तथा भाईचारे की दुआओं के साथ मौलवियों के साथ जुलूस में सियासत से जुड़े लोगों और जन प्रतिनिधियों ने शिरकत किया।

खजुरहट में जुलूस की अगुवाई करने वाले मदरसे के प्रबंधक मनने खा, मोहम्मद शकील, मोहम्मद तौफीक, मोहम्मद रफीक, प्रधान प्रतिनिधि पंकज सोनी, बलराम यादव तथा कोछा बाजार में जुलूस की अगवाई करने वाले मौलाना महताब आलम और फरीद अहमद, पूर्व प्रधान मोहम्मद मुस्लिम शेख ने मुल्क की सलामती व क्षेत्र के भाईचारे की दुआएं की।

मौरावा ग्राम पंचायत में ग्राम प्रधान प्रतिनिधि मोहम्मद मोबीन की अगुवाई में भी जुलूस ए मोहम्मदी निकला गया। इस दौरान बड़ी तादात में मोहम्मद साहब के जन्मदिन पर महिलाएं व बच्चों ने शिरकत की। बीकापुर कस्बा एवं दराबगंज में मौलाना नसरुद्दीन शाह कादरी का प्रसिद्ध जुलूस भी लोगों के आकर्षण का केंद्र रहा।

इस दौरान प्रधान प्रतिनिधि अहमद रजा तथा नसरुद्दीन कादरी ने बताया कि मोहम्मद साहब ने इंसानियत तथा मोहब्बत का पैगाम देकर एक जुटता का संदेश दिया था। उन्होंने बीकापुर की गंगा जमुनी तहजीब को हिंदुस्तान के लिए मिसाल बताते हुए दावा किया कि यहां सभी मजहब के लोग एक दूसरे के त्योहारों में शामिल होते हैं। तथा जश्न के माहौल में सभी भाईचारे की मिसाल पेश करते हैं।

इस मौके पर सभासद राजन पांडे, विनय पांडे, सहित तमाम लोग मौजूद रहे। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कोतवाली पुलिस भी जगह-जगह जुलूस के दौरान तैनात रही। जुलूस में महिलाएं और बच्चे भी काफी संख्या में शामिल हुए।

  • मनोज कुमार तिवारी
Click