होली की खुशियां हुई बेरंग, बाइक की टक्कर से किशोर की दर्दनाक मौत

690

रायबरेली। शिवगढ़ थाना क्षेत्र अन्तर्गत बांदा-बहराइच हाईवे पर स्थित मनऊ खेड़ा मजरे शिवली गांव में कच्ची पटरी पर जा रहे किशोर को तेज रफ्तार बाइक संख्या यूपी 32 बीएल 1262 ने जोरदार टक्कर मार दी। जिसकी टक्कर से घायल युवक की दर्दनाक मौत हो गई है। किशोर की मौत की खबर सुनकर परिजनों में कोहराम मच गया। जानकारी के मुताबिक मनऊ खेड़ा गांव के रहने वाले दिनेश कुमार उर्फ मिट्ठू का 15 वर्षीय पुत्र  अंशू (मंगलवार) की प्रातः साढे 10 बजे मनऊ खेड़ा गांव में हाईवे किनारे कच्ची पटरी पर जा रहा था तभी भवानीगढ़ की ओर से हैदरगढ़ की ओर तेज रफ्तार बाइक से जा रहे बाइक सवार मिथिलेश कुमार पुत्र बुधराम निवासी कसना थाना शिवगढ़ जनपद रायबरेली ने अंशू को पीछे से टक्कर मार दी। बताते हैं कि टक्कर इतनी जोरदार थी की मुंह के बल गिरे अंशू के मुंह और नाक से खून बहने लगा। जिसे बेहोशी की हालत में आनन-फानन में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिवगढ़ ले जाया गया। यहां चिकित्सक ने किशोर की हालत गम्भीर देखते हुए प्राथमिक उपचार के पश्चात किशोर को जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। एम्बुलेंस से सीएचसी बछरावां पहुंचे किशोर को चिकित्सक ने प्राथमिक स्वास्थ्य परीक्षण के पश्चात मृत घोषित कर। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक अंशू के शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया है। वहीं हादसे में बाइक सवार मिथिलेश भी गंभीर रूप से घायल हो गया जिसे सीएचसी शिवगढ़ से जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया है। मृतक अंशू के पिता दिनेश कुमार उर्फ मिट्ठू ने शिवगढ़ थाने में बाइक सवार मिथिलेश कुमार पुत्र बुधराम निवासी कसना थाना शिवगढ़ जनपद रायबरेली व करन पुत्र रामदीन निवासी त्रिवेदीगंज जनपद बाराबंकी के खिलाफ तहरीर दी है।

गांव में पसरा मातमी सन्नाटा

चंद मिनट पूर्व जहां सभी युवक, युवतियां एवं बच्चे एक दूजे को रंग लगाकर होली की खुशियां मरा रहे थे वहीं हादसे के बाद हुई किशोर की दर्दनाक मौत से परिजनों में कोहराम मच गया। मृतक की मां सुनीता, पिता दिनेश कुमार उर्फ मिट्ठू, छोटी बहन नेहा (13), निधि( 10) हिमांशु (9) रुचि (6) का रो – रो कर बुरा हाल है। किशोर की हृदय विदारक मौत से गांव में होली की खुशियों की जगह मातमी सन्नाटा पसर गया।

एक दिन पूर्व ही पंजाब से लौटा था किशोर

किशोर दो भाइयों एवं तीन बहनों में सबसे बड़ा था। परिवार की माली हालत होने के चलते 10 माह पूर्व किशोर पंजाब प्राइवेट नौकरी करने चला गया था। प्राइवेट नौकरी करके किशोर माता पिता एवं परिवार का सहयोग करने लगा था। मृतक अंशू 1 दिन पूर्व ही सोमवार की शाम परिवार  के साथ होली करने के लिए पंजाब से वापस लौटा था। उसे क्या पता था होली के बहाने उसे गांव मौत खींच लाई है।

Advertisement