जगतगुरु परमहंस आचार्य राष्ट्रपति के अपमान पर व्यथित

13

अयोध्या:——-
मनोज तिवारी ब्यूरो चीफ अयोध्या
तपस्वी छावनी पीठाधीश्वर जगतगुरु परमहंस आचार्य महामहिम राष्ट्रपति के अपमान पर हुए व्यथित कहा कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सोची समझी चाल के तहत राष्ट्रपति का अपमान कराया है क्योंकि वह जनजाति और पिछड़े समाज से आती हैं । कांग्रेस हमेशा से तुष्टीकरण की राजनीति करती रही है और एक समुदाय विशेष का पक्ष लेती है। जहां गरीबों पिछड़ों की बात आती है तो वह विष भरे बोल बोलती रहती है चाहे वह हमारे देश के प्रधानमंत्री हो या अन्य नेता।
उन्होंने कहा कि कोई भूल नहीं हुई है यह रणनीति तैयार करके नेता विपक्ष से राष्ट्रपति महामहिम द्रोपति मुर्मू का अपमान कराया गया है जो अब देश बर्दाश्त नहीं करेगा और इससे संत समाज के साथ-साथ देश का प्रत्येक नागरिक दुखी है और इसमें हमारी संसद और कानून मंत्री को संज्ञान में लेते हुए अधीर रंजन चौधरी पर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज कराना चाहिए अगर ऐसा नहीं हुआ तो मैं जगत गुरु परमहंस आचार्य न्यायालय का शरण लूंगा और जब तक अधीर रंजन चौधरी पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज नहीं होता तब तक चैन से नहीं बैठूंगा। उन्होंने कहा कि यदि सोची-समझी रणनीति के तहत राष्ट्रपति का अपमान न किया गया होता तो सोनिया गांधी अब तक पार्टी से निष्कासित कर चुकी होती।

Advertisement