भ्रष्टाचार के आरोपी दबंग पूर्व प्रधान द्वारा पत्रकार पर हमला से आक्रोशित उपजा के पत्रकारों ने सौंपा मांगपत्र

22

मनोज तिवारी ब्यूरो चीफ अयोध्या
भेलसर(अयोध्या)भ्रष्टाचार के आरोपी दबंग पूर्व प्रधान द्वारा पत्रकार पर हमला से आक्रोशित उपजा के पत्रकारों ने मुख्यमंत्री को सम्बोधित मांगपत्र क्षेत्रीय विधायक व उपजिलाधिकारी रूदौली को सौंपा है।
उपजा के पत्रकारों ने मांगपत्र के माध्यम से कहा है कि ग्राम सभा मुजफ्फरपुर विकास खण्ड रुदौली कोतवाली रुदौली जिला अयोध्या के भ्रष्टाचार के आरोपी पूर्व प्रधान अंजनी कुमार उर्फ दीपक पांडेय ने पहले फेसबुक जैसे शोशल साइड पर खाकी को खुली चुनौती देते हुए कहा कानून पुलिस का नही कानून दीपक पांडेय का चलेगा।आरोप है कि उसके बाद मनबढ़ दबंग पूर्व प्रधान ने पहले अपने गांव के दलित प्रधान को जाति सूचक गाली दी।फिर शनिवार को भ्रष्टाचार की खबर प्रकाशित करने व तहसील दिवस में डीएम व एसएसपी से शिकायत करने वाले पत्रकार रमेश पांडेय को रास्ते में रोककर उसे दौड़ा दौड़ाकर पीटा।किसी तरह जान बचाकर पत्रकार अपने घर पहुंचा और सूचना इलाकाई पुलिस को दी परन्तु खेद का विषय है कि पुलिस ने आरोपी पूर्व प्रधान को पहले हिरासत में लिया और फिर देर रात्रि छोड़ दिया।बाद में रविवार की दोपहर क्षेत्रीय पत्रकारों के आक्रोश को देखते हुए पुलिस ने उसे पुनः हिरासत में लिया।पीड़ित पत्रकार की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के विरुद्ध 323/504/506/352 का अपराध दर्ज किया गया है।इस घटना को लेकर उपजा के पत्रकारों में आक्रोश व्याप्त है।पत्र में आगे लिखा गया है कि हमसब पत्रकार इस घटना की घोर निंदा करते हैं और मांग करते हैं कि पत्रकार के साथ मारपीट करने वाले आरोपी दबंग पूर्व प्रधान के विरुद्ध गुंडा नियंत्रण अधिनियम के तहत कार्यवाही कर जिलाबदर किया जाय।पत्रकार के विरुद्ध आपराधिक घटनाओं को देखते हुए तत्काल पत्रकार सुरक्षा कानून लागू किया जाय।रुदौली में प्रेस क्लब की स्थापना हेतु आवश्यक कार्यवाही की जाय।उपजिलाधिकारी स्वप्निल यादव ने बताया कि मांगपत्र उचित माध्यम से मा0 मुख्यमंत्री जी को भेजा जा रहा है।
इस अवसर पर उपजा अयोध्या की रूदौली इकाई के अध्यक्ष अब्दुल जब्बार,जगदम्बा श्रीवास्तव,डॉ0 मो0 शब्बीर,सतीश यादव,शाहरुख शेख,रियाज़ अन्सारी,पवन कुमार,अमरजीत सिंह,अमरनाथ,राजेंद्र यादव,अनिल कुमार पांडेय, बीकापुर से मनोज तिवारी अम्ब्रेश यादव”पप्पू”विकास वीर यादव आदि मौजूद रहे।

Advertisement