मानकों को ताक पर रखकर बीईओ कार्यालय में बेंचा गया पेड़

42

विवादों में रहने वाले बीईओ का नया कारनामा उजागर

रायबरेली – उत्तर प्रदेश में एक तरफ जहां योगी सरकार भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति के तहत काम करने के दावे कर रही है वही जनपद रायबरेली में अधिकारियों द्वारा लगातार नए-नए तरीकों से भ्रष्टाचार करके धन कमाने का खेल बदस्तूर जारी है।
ऐसे ही एक विवादित अधिकारी रायबरेली जिले के शिक्षा विभाग में भी तैनात हैं जिनके लिए शायद योगी सरकार का कोई नियम कायदा मायने नहीं रखता अक्सर विवादों में रहने वाले खंड शिक्षा अधिकारी डलमऊ के के त्रिपाठी का एक और नया कारनामा उजागर हुआ है विकासखंड क्षेत्र के चंद्रभूषण घोरवारा स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय और खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय के संयुक्त परिसर में विगत दिनों एक पेड़ गिर कर धराशाई हो गया, उसी गिरे पेड़ की आड़ में नियम और कानून को ताक में रखकर यूकेलिप्टस का भी पेड़ भी बेंच दिया गया, बीईओ कार्यालय में पेड़ कटने से दिनभर अध्यापकों के मध्य भी गहमागहमी का माहौल बना रहा।
खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय परिसर में हुई इस कटान के सम्बंध में जब पूर्व माध्यमिक विद्यालय चंद्रभूषणगंज घोरवारा की प्रधानाध्यापिका बीना चौधरी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि हमारी तरफ से कोई पेड़ नही बेंचा गया है ना ही कटवाया गया है अगर बीआरसी परिसर में ऐसी कोई कटान हुई है तो उसकी जानकारी हमें नहीं है।
मामले के बाबत जब खंड शिक्षा अधिकारी डलमऊ के के त्रिपाठी से बात की गई तो उन्होंने ने कहा कि एक पेड़ गिर गया था उसको ही कटवाया गया है और कोई पेड़ नहीं काटा गया है।

देवेश वर्मा रिपोर्ट

Advertisement