दीपावली मेला को लेकर यूपी-एमपी के अधिकारियों ने की महाबैठक

12
  • 5 दिवसीय दीपावली मेला में 30 लाख श्रद्धालुओं के पहुंचने की संभावना
  • मेला में नारियल व अगरबत्ती पर प्रतिबंध लगाने की हुई चर्चा

    चित्रकूट। जिलाधिकारी चित्रकूट उत्तर प्रदेश अभिषेक आनन्द, पुलिस अधीक्षक चित्रकूट उत्तर प्रदेश अतुल शर्मा व जिलाधिकारी सतना मध्य प्रदेश अनुराग वर्मा, पुलिस अधीक्षक सतना मध्य प्रदेश आशुतोष गुप्ता की उपस्थिति में धनतेरस, दीपावली मेला, भैया दूज आदि पर्व को सकुशल संपन्न कराए जाने से संबंधित कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद चित्रकूट व सतना मध्य प्रदेश के अधिकारियों के साथ समन्वय बैठक का आयोजन किया गया।

जिलाधिकारी चित्रकूट अभिषेक आनन्द ने मध्य प्रदेश के अधिकारियों सहित संबंधित अधिकारियों का स्वागत करते हुए कहा कि दोनों तरफ के अधिकारी यह सुनिश्चित कर लें कि सभी विभाग आपस में तालमेल अवश्य बनाकर मेला को सकुशल संपन्न कराएं नाव व पूजन सामग्री की दर अवश्य अंकित कराएं।

हनुमान धारा की तरफ पार्किंग की व्यवस्था सुनिश्चित कराएं। चित्रकूट उत्तर प्रदेश में मेला क्षेत्र को 9 जोन तथा 23 सेक्टर में विभाजित किया गया है। सभी जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात कर दिए गए हैं।

उन्होंने सभी जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेटों से कहा कि संबंधित पुलिस अधिकारियों के साथ अभी से ही अपने अपने क्षेत्र का भ्रमण करके व्यवस्थाएं समय से पूर्ण करा लें, ताकि मेला के दौरान कोई समस्या न हो।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं को देखते हुए एंबुलेंस आदि व्यवस्थाएं पूर्व की भांति सुनिश्चित कर लें। जिला पंचायत राज अधिकारी तथा अधिशासी अधिकारी नगरपालिका परिषद कर्वी को निर्देश दिए कि पूरे मेला क्षेत्र में साफ-सफाई निरंतर कराते रहें।

परिक्रमा को दोनों तरफ के अधिकारी तीन बार सफाई अवश्य कराएं। सफाई के लिए मोबाइल टीम भी गठित की जाए। किसी भी दशा में अन्ना जानवर न घूमें तथा खोया पाया केंद्र सीसीटीवी कैमरे आदि की भी व्यवस्था सुनिश्चित करा ली जाए।

पेयजल व्यवस्था पर पेयजल से संबंधित अधिकारियों से कहा कि पूरे मेला क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था निरंतर बनी रहे पानी की कोई समस्या नहीं होना चाहिए। जो पाइप लाइन खराब है उन्हें अभी ठीक करा लिया जाए। कहा कि रामघाट पर मां मंदाकिनी गंगा पर मोटर बोट दोनों तरफ पर रहे।

उप जिलाधिकारी कर्वी व मझगवां सतना सुनिश्चित करें की जो नाव चलाई जाए उन पर नंबर अवश्य डाला जाए तथा सवारियों की क्षमता भी अंकित की जाए उनके पहचान पत्र भी बनाए जाएं घाट पर बैरिकेडिंग अवश्य कराएं और खतरे के निशान व पोस्टर बैनर भी लगाया जाए बीच-बीच में दोनों तरफ के अधिकारी माइक से अनाउंस भी करते रहें।

अधिक से अधिक गोताखोर रखा जाए और प्रॉपर तरीके से मां मंदाकिनी गंगा की सफाई अवश्य कराते रहें कहां की घाट में जिस दिन दीपदान हो उस दिन जलाए गए दीपों को हटाने की व्यवस्था भी सुनिश्चित कर ली जाए।

उन्होंने अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिए कि मेला क्षेत्र की जो सड़कें खराब हो तो तत्काल ठीक करा लें जहां जहां पर पार्किंग स्थल बनाए जाने हैं वहां पर स्लोप की व्यवस्था अवश्य कराएं ताकि, वाहनों के आने-जाने में कोई समस्या न हो।

उन्होंने दोनों तरफ के विद्युत विभाग के अधिकारियों से कहा कि आप लोग यह सुनिश्चित कर लें कि कहीं पर तार व पोल अगर जर्जर है तो उन्हें तत्काल ठीक करा लिया जाए तथा प्रकाश व्यवस्था के लिए जनरेटर की भी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें।

मेला क्षेत्र में जो कंट्रोल रूम के नंबर है उन्हें आदान प्रदान अवश्य किए जाए। उन्होंने कहा कि दीपदान मेला की प्राचीन परंपरा है इसमें सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराएं।

उन्होंने कहा कि मेला के पूर्व सभी विभाग अपनी अपनी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर लें ताकि मेला के दौरान कोई समस्या न हो। मैं सभी को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं।

जिलाधिकारी सतना मध्य प्रदेश अनुराग वर्मा ने कहा कि दीपावली मेला के दौरान भीड़ को देखते हुए मध्य प्रदेश द्वारा सभी व्यवस्थाएं की गई हैं।

उन्होंने कहा कि दोनों तरफ के अधिकारी सभी व्यवस्थाओं में एक दूसरे का सहयोग करें उन्होंने कहा कि दोनों तरफ के परिक्रमा परिक्षेत्र में नारियल, अगरबत्ती पर पूर्णतया रोक लगाया जाए।

उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश की तरफ पांच अस्थाई पार्किंग व्यवस्था बनाई गई है। पीली कोठी पर भी वाहन नहीं आएंगे परिक्रमा मार्ग सहित पूरे क्षेत्र को जोन एवं सेक्टर में विभाजित कर सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर ली गई है।

उन्होंने कहा कि मैहर मेला हो या चित्रकूट श्रद्धालुओं को अच्छी सुविधाएं मिलनी चाहिए। मैं सभी को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं।

पुलिस अधीक्षक चित्रकूट अतुल शर्मा ने कहा कि हमारी टीम को सक्रिय रहकर मेला को सकुशल संपन्न कराना है सभी विभाग जिन अधिकारियों, कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है वह पूर्व में ही भ्रमण करके देख लें ताकि मेला के दौरान समस्या न हो आपस में कम्युनिकेशन गैप नहीं होना चाहिए दोनों तरफ के कंट्रोल रूम के नंबरों का आदान प्रदान अवश्य कर लिया जाए।

तथा सभी संबंधित विभाग के अधिकारी कर्मचारी जिनकी मेला में ड्यूटी लगाई गई है उसकी भी सूची मोबाइल नंबर सहित आदान-प्रदान कराया जाए।

रामघाट व परिक्रमा क्षेत्र में पर्याप्त पुलिस व्यवस्था रहेगी दुकानों पर खाद्य पदार्थों को लेकर छापेमारी की कार्यवाही अभी से सुनिश्चित की जाए सिलेंडर का प्रयोग दुकानों पर न करने दिया जाए।

पूरे मेला क्षेत्र का अतिक्रमण हटवाया जाए रामघाट व परिक्रमा मार्ग पर जो चेंजिंग रूम व खोया पाया केंद्र बनाया जाए उसमें साइन बोर्ड अवश्य लगाया जाए रामघाट व परिक्रमा मार्ग पर पोस्टर के माध्यम से कंट्रोल रूम के नंबरों को जगह-जगह पर चस्पा अवश्य कराएं।

तीर्थ क्षेत्र में किसी भी दशा में पटाखा नहीं बिकना चाहिए दोनों जिले के उप जिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी क्षेत्र का भ्रमण कर कार्यवाही सुनिश्चित करें।

पुलिस अधीक्षक सतना आशुतोष गुप्ता ने कहा कि दोनों जिले के अधिकारी आगामी दीपावली मेला को देखते हुए सभी विभाग अपनी अपनी व्यवस्था अभी से ही सुनिश्चित कर लें।

भारी वाहनों का मूवमेंट की व्यवस्था पूर्व में ही करा लें पार्किंग की व्यवस्था सही रहे फूड प्वाइजनिंग पर नजर रखें सभी अधिकारी, कर्मचारी अपनी ड्यूटी स्थल पर रहकर मेला को सकुशल संपन्न कराएं।

सबसे महत्वपूर्ण स्थल रामघाट व परिक्रमा मार्ग का मुख्य प्रथम द्वार है यहां पर अतिरिक्त व्यवस्था की जाएगी कोई समस्या नहीं होगी पर्याप्त पुलिस बल की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है।

बैठक में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व कुंवर बहादुर सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक चित्रकूट चक्रपाणि त्रिपाठी, एसडीओपी चित्रकूट सतना मध्य प्रदेश आशीष जैन, उप जिलाधिकारी कर्वी राजबहादुर, उप जिलाधिकारी मझगवां सतना पी एस त्रिपाठी, पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर हर्ष पांडेय, समस्त उप जिलाधिकारी चित्रकूट सहित चित्रकूट जनपद व सतना मध्य प्रदेश के संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

रिपोर्ट- पुष्पराज कश्यप

Advertisement