सत्संग ही परमात्मा से मिलाप का साधन- आत्मानंद

7

लालगंज, रायबरेली। नगर के बहुप्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान बक्शी मेमोरियल पब्लिक स्कूल लालगंज में स्वामी आत्मानंद सरस्वती जी महराज ने अपने सत्संग के माध्यम से श्रोतागणों को भक्ति-मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित किया।

उल्लेखनीय है कि उमाशंकर बाजपेयी द्वारा बीएमपीएस लालगंज प्रांगण में आयोजित कार्यक्रम में श्री श्री 1008 महामंडलेश्वर स्वामी आत्मानंद सरस्वती जी महराज ने अपनी ज्ञान वाणी से सत्संग के माध्यम से श्रोता-गणों को भक्तिरस से सराबोर कर परम पिता परमेश्वर के प्रति अटूट आस्था और विश्वास रखने का पाठ पढ़ाया। स्वामी जी ने कहा कि कलयुग में सत्संग सुनने से मन के सारे विकार नष्ट हो जाते हैं।

परमात्मा के प्रति आस्था, विश्वास और प्रेम बढ़ता है,मानव मन ईश्वर के बनाए सिद्धांतों का अनुसरण करने लगता है।कलयुग में मात्र सत्संग सुनने से ही मन के सारे पाप धुल जाते हैं, मन पवित्र हो जाता है। मन के बुरे विचार व पापों को दूर करने का एक मात्र साधन सत्संग ही है। सत्संग रूपी ज्ञान से मन को शांति व संतोष मिलता है।

स्वामी जी ने कहा एक अच्छा श्रोता ही अच्छा वक्ता बन सकता है दोनों के लिए ही धैर्य की आवश्यकता होती है तभी व्यक्ति के अंदर ज्ञान,वैराग्य और भक्ति-भावना विराजित होती है। स्वामीजी ने बीएमपीएस संस्थान व परिवार के उत्तरोत्तर विकास व वृद्धि का भी आशीर्वाद दिया।

इस अवसर पर बीएमपीएस प्रबंध-निदेशक सुनीलसिंह, प्रबंधक शान्तनु सिंह, प्रशासनिक सचिव सिद्धार्थ सिंह,रमाशंकर बाजपेयी, राकेश सिंह,नीरज सिंह, विष्णु प्रताप सिंह,विकास सिंह,शैलेन्द्रतिवारी,शिवसागर निर्मल,बी.एन.यादव,विजय, सुशीलशुक्ला,देवेशअग्निहोत्री, झिलमिलजी महराज, देवीकुमारगुप्ता,उपेंद्र सिंह, शिवप्रकाश पाण्डेय, अनूपपाण्डेय सहित सैकड़ों की संख्या में भक्त जन मौजूद रहे।कार्यक्रम समापन पर आयोजक-मंडल परिवार द्वारा प्रसाद वितरण कार्यक्रम संपन्न हुआ।यह जानकारी विद्यालय के मीडिया प्रभारी यशबहादुर यादव ने दी।

रिपोर्ट – संदीप कुमार फिजा

Advertisement