स्वच्छ भारत अभियान- मौसमी बीमारी से दर्जनों बीमार

5

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र के सेवापुरी विधानसभा क्षेत्र के राजातालाब कस्बे की मुख्य बाजार पंचक्रोशी मार्ग, ला कालेज रोड समेत कई मोहल्लों और दुकानों के आगे कचरे के ढेर लगे हैं, वहीं ग्रमीणों का कहना है कि कस्बे के दुकानदार कूड़ा-कचरा पात्र नहीं होने से दुकानों के आगे कचरा डाल रहे हैं, जिससे मार्केट में और गलियों में गंदगी बनी रहती है. इसके चलते आवाजाही में ग्रामीणों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता है, गंदगी से बीमारियों को अपने आप न्योता दे रहे हैं. दर्जनो बीमार भी हो चुके हैं.

देश और उत्तर प्रदेश में स्वच्छ भारत अभियान (Swachh Bharat Mission) को लेकर प्रत्येक ग्राम पंचायत को लाखों रुपये का बजट भी दिया जा रहा है लेकिन ग्राम पंचायत इस ओर ध्यान ही नहीं दे रही है.

वहीं ग्राम पंचायत की ओर से इस के ऊपर किसी भी प्रकार की ठोस कार्रवाई नहीं की जा रही है. स्वच्छता के प्रति ग्राम पंचायत लापरवाह, लाखों रुपये के बजट होने के बावजूद भी स्वच्छता के प्रति ग्राम पंचायत का रुख नहीं है. देश और प्रदेश में स्वच्छ भारत अभियान (Swachh Bharat Mission) को लेकर प्रत्येक ग्राम पंचायत को लाखों रुपये का बजट भी दिया जा रहा है लेकिन ग्राम पंचायत इस ओर ध्यान ही नहीं दे रही है.

देशभर में एक ओर जहां सरकार शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता सूची जारी कर अलग से बजट देती है और यहां तो स्वच्छता अभियान के नाम पर मात्र खानापूर्ती ही की जा रही है.

राजातालाब जोकि एसडीएम कार्यालय व आराजीलाईन ब्लाक कार्यालय होने के बावजूद भी यहां पर प्रशासनिक अधिकारियों को कई बार ग्रामीणों की ओर से शिकायत भी की गई परंतु कस्बा क्षेत्र मे गंदगी को लेकर प्रशासन के उदासीन रवैया के चलते गलियां गंदगी से भरी-पड़ी है जिसका खामियाजा भोली भाली जनता को भुगतना पड़ रहा है.

राजातालाब चौराहे पर टॉयलेट नहीं होने के कारण खुले में जाते हैं शौच स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि राजातालाब में बने राजमार्ग सिक्स लेन पर टॉयलेट नहीं बने होने के कारण क्षेत्रीय लोगों, यात्रियों व ग्रामीणों को खुले में शौच के लिये जाने पर मजबूर होना पढ़ रहा है, वहीं मुख्य बाजार व राजमार्ग में जगह-जगह कचरे के लगे ढेर से हालात खराब हो रखे हैं.

वहीं स्थानीय दुकानदार कचरा पात्र नहीं रखते है ना कि ग्राम पंचायत सफाई अभियान को लेकर किसी तरफ का ठोस कदम उठा नहीं रही है. वहीं गंदगी और बदलते मौसम में डेंगू, मलेरिया जैसी कई तरह की बीमारियों का हर समय खतरा फैल रहा है. स्थानीय निवासी सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता ने ग्राम प्रधान, बीडीओ, एसडीएम, डीएम सहित कमिश्नर को डिजिटली पत्र प्रेषित कर उपरोक्त समस्या के समाधान की माँग किया है।

– राजकुमार गुप्ता

Advertisement