Amit Shah@Assam: शाह बोले 40 साल पहले हुई थी पिटाई

11
amit shah@assam-40 years ago amit shah beatan as a abvp worker in assam

Amit Shah@Assam: अमित शाह ने 40 साल पुराना वाक्या सुनाते हुए कहाकि असम में ABVP कार्यकर्ता के रूप में उन सब की धुनाई हुई थी।

Amit Shah@Assam: तीन दिवसीय दौरे पर आए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने असम की पुरानी यादों को ताजा करते हुए कहा- 40 साल पहले मैं यहां विद्यार्थी परिषद के कार्यक्रम में आया था, तब हमें असम के पूर्व CM हितेश्वर सैकिया ने बहुत मारा था। हम नारे लगाते थे असम की गलियां सूनी हैं, इंदिरा गांधी खूनी हैं। उस वक्त कल्पना नहीं की थी कि बीजेपी 2 बार जीतकर यहां सरकार बनाएगी।

अमित शाह तीन दिन के असम दौरे पर हैं। बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी उनके साथ हैं। इसी दौरे शाह ने गुवाहाटी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए इस किस्से का जिक्र किया।

Amit Shah@Assam: शाह ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहाकि असम की भूमि को कांग्रेस ने कई साल तक आतंकवाद, विघटन, आंदोलन और हड़ताल की भूमि बना दिया था। ना शिक्षा हो रही थी, ना शांति थी। यहां पर  विकास ठप था। आज मुझे खुशी है कि 2014 से पूरा नॉर्थ ईस्ट विकास के रास्ते पर चल पड़ा है।

बता दें कि अमित शाह की उपस्थिति में नॉर्थ ईस्ट राज्यों में लगभग 40,000 किलो ड्रग्स नष्ट की गई। गृह मंत्री ऑफिस ने ट्वीट किया- गुवाहाटी में लगभग 11,000 किलो, असम में 8000 किलो, अरुणाचल में 4000 किलो, मेघालय में 1600 किलो, नागालैंड में 398 किलो, मणिपुर में 1900 किलो, मिजोरम में 1500 किलो और त्रिपुरा में 12,000 किलो ड्रग्स नष्ट की गई।

Amit Shah@Assam: असम के खानापारा में कार्यकर्ता सम्मेलन में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि ये कांग्रेसी जहां पर भी बैठे हैं वो सुन लें, जवाहर लाल नेहरू ने 1962 में जब चीन की लड़ाई हुई थी, तब बाय-बाय असम कह दिया था। उसके बाद से कांग्रेस वाले भूल ही गए थे कि उत्तर-पूर्व भी कोई चीज है।

Amit Shah@Assam: उन्होंने कहा- यहां पर जिस प्रकार का अलगाववाद हुआ था, मोदी जी बिना किसी भाषण के उसमें परिवर्तन लाए। कांग्रेस के शासन में भारत को तोड़ने की प्रक्रिया हुई और कांग्रेस मूकदर्शक बनी रही। मोदी जी ने आकर भारत को तोड़ने की प्रक्रिया को बंद कर भारत को जोड़ने का काम किया है। जनता को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि सरकार AFSPA को नॉर्थ ईस्ट राज्यों में शांति स्थापित करने के बाद ही हटाएगी।

वहीं गुवाहाटी में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि एक समय यह राज्य बंद के लिए जाना जाता था। आज यह शांतिप्रिय और विकासशील प्रदेश है। यह नेतृत्व के अंतर के कारण हुआ ह

Reports Today

Click