Sourav Ganguly: दादा की दादागिरी, बोले कुछ और बड़ा करेंगे

11
sourav ganguly bcci chief

Sourav Ganguly: बीसीसीआई चीफ सौरव गांगुली ने साफ कर दिया है कि वे आगे भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष नहीं बन पाएंगे। उन्होंने कहाकि मैं हमेशा प्रशासक नहीं बना रह सकता। आगे कुछ और बड़ा करना है।

Sourav Ganguly: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई (BCCI) के अध्यक्ष सौरव गांगुली जल्द इस पोस्ट को छोड़ने वाले हैं, क्योंकि इस बात की पूरी संभावना है कि रोजर बिन्नी अब इस कुर्सी पर विराजमान होने वाले हैं।

हालांकि, कई मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि गांगुली बीसीसीआई के प्रमुख बने रहना चाहते थे, लेकिन कथित तौर पर उन्हें अन्य सदस्यों से समर्थन नहीं मिल सका। हालांकि इस पर उनकी तरफ से आधिकारिक बयान नहीं आया है, लेकिन उन्होंने स्पष्ट कर दिया है कि वे बीसीसीआई BOSS नहीं होंगे, क्योंकि वह कुछ और करने वाले हैं। गांगुली ने ये भी कहा है कि वे हमेशा प्रशासक नहीं बने रह सकते।

Sourav Ganguly: बंधन बैंक के एक कार्यक्रम में बोलते हुए सौरव गांगुली ने इस बात की पुष्टि की कि वह लंबे समय से प्रशासक हैं और अब कुछ और करना चाहते हैं।

Sourav Ganguly: उन्होंने इस इवेंट में कहा, “मैं लंबे समय से एक प्रशासक रहा हूं और मैं किसी और चीज पर आगे बढ़ूंगा। आप जीवन में जो कुछ भी करो, लेकिन वह सबसे अच्छे दिन होते हैं, जब आप भारत के लिए खेलते हैं। मैं बीसीसीआई का अध्यक्ष रहा हूं और मैं आगे भी बड़े काम करता रहूंगा। आप हमेशा के लिए खिलाड़ी नहीं हो सकते, आप हमेशा के लिए प्रशासक नहीं हो सकते। दोनों को करके बहुत अच्छा लगा।”

उन्होंने आगे कहा, “मुझे इतिहास में कभी विश्वास नहीं था, लेकिन अतीत में पूर्व की भावना उस स्तर पर खेलने के लिए प्रतिभा की कमी थी। आप एक दिन में अंबानी या नरेंद्र मोदी नहीं बनते। वहां पहुंचने के लिए आपको महीनों और सालों तक काम करना पड़ता है।”

Sourav Ganguly: बता दें कि रोजर बिन्नी, सौरव गांगुली की जगह लेने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। उन्होंने पहले ही अपना नामांकन-पत्र दाखिल कर दिया है और उनके निर्विरोध चुने जाने की प्रबल संभावना है। हालांकि, जय शाह के बोर्ड सचिव बने रहने की पूरी संभावना है। वे भी निर्विरोध चुनाव जीतने वाले हैं।

Click