चाकू से गला काट युवक ने खुदकुशी की

11

हमीरपुर। रस्सी का फंदा लगाकर आत्महत्या के प्रयास में असफल होने पर, चाकू से गला और हाथ की नस काटकर युवक ने अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। काफी देर से बंद कमरे के बाहर परिजनों को कोई आवाज न सुनाई देने पर दरवाजा खटखटाया तो युवक को खून में लथपथ देख सबके होश उड़ गए।

कस्बा के दीक्षित मुहाल निवासी जयप्रकाश दीक्षित ने थाना में लिखित तहरीर देते हुए बताया कि आज समय लगभग 4 बजे के आसपास उनका पुत्र आशीष कुमार 25 वर्ष ने अपने आप को एक कमरे में बंद कर लिया। और लगभग दो घंटे कमरे के बाहर न निकलने पर जब उनको शक हुआ तो उन्होंने कमरे की खिड़की से अंदर झांककर देखा कि आशीष खून में लथपथ जमीन में पड़ा हुआ है।

शोर मचाने पर परिजनों एवं पड़ोसियों की मदद से कमरे के ऊपर लगे टीन सेट को उखाड़ कर लोग कमरे में दाखिल हुए और अंदर से बंद कमरे की कड़ी को खोला तब जाकर देखा कि खून में लथपथ पड़े उनके पुत्र आशीष की मौत हो चुकी है। बताया कि उसके गले में छोटी सी एक रस्सी बंधी हुई थी। जिसका एक टूटा हुआ हिस्सा टीन सेट के इंगल में बंधा हुआ था। और पास ही में सब्जी काटने वाली चाकू पड़ी थी।

बताया कि आशीष पिछले 4 वर्षों से मानसिक रूप से परेशान था। जिसका इलाज भी करवा रहे थे। कहा कि पिछले 4 वर्षों से वह घर के बाहर ही नहीं निकलता था। रिश्तेदार एवं पड़ोसियों के आने पर अपने आप को एकांत में बंद कर लेता था। और अक्सर मरने की बातें किया करता था।

मृतक के पिता ने बताया कि उसके दो पुत्र हैं। जिसमें से बड़ा पुत्र दीपक बाहर रहकर प्राइवेट जॉब करता है। घर में दो पुत्रियां और पुत्र आशीष एवं उनकी पत्नी रहती है। और वे स्वयं खेती किसानी कर घर का भरण पोषण करते हैं।

थाना प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार ने बताया कि उक्त घटना की तहरीर प्राप्त हुई है। मौके पर जाकर छानबीन की गई है। कहा कि जांच करते हुए शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। और जांच उपरांत विधिक कार्रवाई की जाएगी।

रिपोर्ट- एमडी प्रजापति

Advertisement