घर-घर पूजने को तैयार हो रहे लक्ष्मी-गणेश की मूर्तियां

25

चित्रकूट। दीपावली का त्यौहार जैसे ही नजदीक आता जा रहा है, जाति धर्म से ऊपर उठकर हर वर्ग के मूर्तिकला से जुड़े कलाकार परिवार सहित रात दिन एक करके लक्ष्मी गणेश व कुबेर सहित मूर्ति व खिलौने तैयार करने में जुटे हैं।

यूपी-एमपी से माल लेने आते हैं व्यापारी

चित्रकूट मुख्यालय के पुरानी बाजार द्वारिकापुरी में 2 दर्जन से अधिक परिवार मिट्टी के खिलौने मूर्तियां व बर्तन बनाकर अपना जीवन यापन करते हैं। सीजन की मांग के हिसाब से इस समय कुम्हार लक्ष्मी गणेश की मूर्तियां बना रहे हैं।

युवा कलाकार सोनू प्रजापति बताते हैं कि दीपावली सीजन के लिए 4 महीने पहले से मूर्तियों की रंगाई करनी पड़ती है तब जाकर व्यापारियों को माल दे पाते हैं हमारे यहां चित्रकूट जिले सहित बांदा महोबा प्रयागराज सतना कटनी पन्ना छतरपुर व जबलपुर आदि से व्यापारी माल लेने आते हैं।

माल बनाने के लिए मिट्टी की उपलब्धता में कठिनाई होती है सरकार को मिट्टी उपलब्ध कराने में सहयोग करना चाहिए। जिससे भरण पोषण में आसानी हो।

मूर्तियां रंग रही रुबीना कहती है कि हम 4 महीने से लक्ष्मी गणेश व अन्य मूर्तियां रंगने काम करते हैं रुबीना के अलावा ऐसी तमाम लड़कियां यहां आपको खिलौनों में रंग करती हुई मिल जाएंगी।

-पुष्पराज कश्यप

Advertisement