अनुपस्थित पंचायत सचिवों व कर्मचारियों पर गिर सकती है बड़ी गाज

65

ब्रेकिंग प्रतापगढ़
2 अक्टूबर गांधी जयंती पर अनुपस्थित पंचायत सचिवों व कर्मचारियों की अटेंडेंस रजिस्टर में लगी है अब्सेंट, कट सकती है एक दिन की सैलरी।
ब्लाक प्रमुख इसरार अहमद ने अनुपस्थिति कर्मचारियों को लेकर बीडीओ मांधाता अरुण कुमार को पत्र लिखकर मांगा था 2 दिन में स्पष्टीकरण

प्रतापगढ़। 5 अक्टूबर विकासखंड मांधाता में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी व पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री की जयंती पर सम्पन्न हुए समारोह में अनुपस्थित रहे 23 कर्मचारियों से बीडीओ मांधाता अरुण कुमार ने स्पष्टीकरण मांगा है चेतावनी दी है कि साक्ष्य सहित संतोषजनक जवाब नहीं मिलने क्यू पर सम्बंधित के खिलाफ कार्रवाई की संस्तुति कर दी जाएगी।

रविवार को विकास खंड मांधाता में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी व पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री की जयंती पर ब्लॉक प्रमुख इसरार अहमद के नेतृत्व में समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें महापुरुषों को श्रद्धासुमन अर्पित करने सहित कई कार्यक्रम सम्पन्न कराए गए।

इस समारोह के लिए ब्लॉक प्रमुख की ओर से ब्लॉक के सभी अफसरों कर्मचारियों को आमंत्रित किया गया था जबकि समारोह में ब्लॉक के 23 कर्मचारी शामिल नहीं हुए इसमें एडीओ पंचायत विजय शुक्ल भी शामिल है इसकी लिखित शिकायत ब्लॉक प्रमुख ने बीडीओ अरुण कुमार से की है।

सोमवार को बीडीओ ने सभी अनुपस्थित कर्मचारियो को नोटिस भेजकर दो दिन में स्पष्टीकरण मांगा है गांधी जयंती पर अनुपस्थित पंचायत सचिवों और कर्मचारियों के ऊपर एक दिन की Hसैलरी कटने का संकट दिखाई दे रहा है।

वहीं ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि अशफाक अहमद ने बताया कि ऐसे लापरवाह पंचायत सचिवों और कर्मचारियों के ऊपर जरूर होगी कार्रवाई पंचायत सचिवों और कर्मचारियों से स्पष्टीकरण मांगा गया है और स्पष्टीकरण का आज आखिरी दिन है स्पष्टीकरण प्रस्तुत न करने पर मुख्य विकास अधिकारी ईशा प्रिया को भी पत्र लिखकर कराऊंगा अवगत और अनुपस्थित लोगों की एक दिन की कटवाई जाएगी सैलरी,ब्लाक प्रमुख के द्वारा इस मांगे गए स्पष्टीकरण के बाद कई अधिकारी भी लपेटे में आ गए हैं कर्मचारियों की टेंशन बढ़ गई है।

क्या है नियम
2 अक्टूबर गांधी जयंती 15 अगस्त 26 जनवरी है राष्ट्रीय पर्व इस में होने वाले कार्यक्रम में सभी कर्मचारियों का शामिल होना अनिवार्य है। यदि किसी कारणवश कोई कर्मचारी जिले में नहीं है या बीमार है तो उसको देना पड़ेगा लिखित स्पष्टीकरण।

रिपोर्ट- अवनीश कुमार मिश्रा

Click