हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैया लाल की

91

राइजिंग चाइल्ड स्कूल में मनाई गई जन्माष्टमी

रायबरेली। शहर के प्रभुटाऊन स्थित राइजिंग चाइल्ड स्कूल में जन्माष्टमी की पूर्व संध्या पर राधा कृष्ण लीला पर आधारित अनेकों सांस्कृतिक कार्यक्रम संपन्न हुए।

स्कूल के नन्हे-मुन्ने बच्चे अपने अभिभावकों की उंगली पकड़ कर राधा, कृष्ण, सुदामा, वासुदेव इत्यादि की वेशभूषा में विद्यालय पहुंचे। विद्यालय की ओर से मटकी और माखन की व्यवस्था की गई थी।

कृष्ण भगवान की वेशभूषा में पार्थ कक्कड़ ने जैसे ही मटकी फोड़ी वैसे ही “जय श्री कृष्ण” और “हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैया लाल की” की गूंज से पूरा वातावरण गुंजायमान हो गया। विद्यालय के बच्चों ने “आज राधा को श्याम नजर”, “गोविंदा आला रे”, “मच गया शोर सारी नगरी में”, “वृंदावन का कृष्ण कन्हैया” आदि गीतों पर खूब मस्ती किया।

इर्निका, वेदांश, प्रज्ञा, आराध्या, अभ्या, रुद्रांश, समर्थ, अमूल्या, शिवन्या, शैव्या आदि बच्चों का प्रदर्शन अत्यंत सराहनीय रहा। विद्यालय के प्रबंधक अरविंद श्रीवास्तव, एडवोकेट ने सभी को जन्माष्टमी की शुभकामनाएं देते हुए बच्चों को पुरस्कृत किया। प्रधानाचार्या सीमा श्रीवास्तव ने बच्चों को जन्माष्टमी मनाए जाने के कारण और महत्व को विस्तार से बताया।

विद्यालय में हुए कार्यक्रमों में रवींद्रनाथ हरि, स्वालेहा, सारा, स्मृति, सादिया, कंहकशा, ज़ेबा, अशफिया, शुभांगी, प्रेमलता, शताक्षी, शालिनी, अंशिका, आयुषी, श्रुति, महिमा, अमित, वर्णिका, सुष्मिता, प्रतीक्षा, नेहा, शिवली, अंजलि, मोनिका, नसरा, प्राची, रमसा, मंतशा, आकांक्षा, तंजीम, प्रियंका, इशरत, ईशा, सोनम, दीपिका, नैंसी, गरिमा, शिवि, अदिति, तौफीक, अजय का सहयोग सराहनीय रहा।

  • अनुज मौर्य
Click