RISHI SUNAK: भारतीय मूल के ऋषि सुनक ब्रिटेन के PM बने

8
rishi sunak uk pm

RISHI SUNAK: किंग चार्ल्स III ने ऋषि सुनक को ब्रिटेन का प्रधानमंत्री नियुक्त कर दिया। साथ ही नई सरकार बनाने के लिए कहा है।

RISHI SUNAK: ब्रितानी सांसद ऋषि सुनक ने सोमवार को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद की रेस में जीत हासिल कर ली है। दुनिया भर के अख़बारों में इसे एक ‘ऐतिहासिक घटना’ बताया जा रहा है।

RISHI SUNAK: 42 वर्षीय सुनक ब्रिटेन के पहले एशियाई मूल के और हिन्दू प्रधानमंत्री होंगे. इस ख़बर पर दुनिया भर के नेताओं की ओर से प्रतिक्रियाएं आना जारी हैं।

RISHI SUNAK: ऋषि सुनक के बारे में जान लीजिए। ऋषि सुनक इन्फ़ोसिस के संस्थापक एनआर नारायण मूर्ति के दामाद हैं। उनकी पत्नी अक्षता मूर्ति ब्रिटेन की सबसे अमीर महिलाओं में हैं। इससे पहले सुनक बोरिस जॉनसन कैबिनेट में वित्त मंत्री थे। 2015 से सुनक यॉर्कशर के रिचमंड से कंज़र्वेटिव सांसद चुने गए थे।

RISHI SUNAK: सुनक के पिता एक डॉक्टर थे और मां फ़ार्मासिस्ट थीं। भारतीय मूल के उनके परिजन पूर्वी अफ़्रीका से ब्रिटेन आए थे। सुनक की पढ़ाई विंचेस्टर कॉलेज में हुई। उच्च शिक्षा के लिए सुनक ऑक्सफ़र्ड गए। बाद में स्टैनफ़ोर्ड विश्वविद्यालय में एमबीए भी किया। राजनीति में आने से पहले इन्वेस्टमेंट बैंक गोल्डमैन सैक्स में काम किया।

RISHI SUNAK: उधर भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऋषि सुनक को बधाई देते हुए ट्वीट किया है। इस ट्वीट में पीएम मोदी ने लिखा है, “ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बनने पर मैं आपके साथ वैश्विक मुद्दों पर काम करने के साथ ही रोडमैप 2030 को अमल में लाना चाहूंगा। ब्रिटेन और भारत ने व्यापार से लेकर निवेश और तकनीकी साझेदारी से जुड़े मुद्दों पर ‘रोडमैप 2030’ के नाम से एक समझौता किया है।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ”अब जब हम अपने ऐतिहासिक संबंधों को आधुनिक साझेदारी में बदल रहे हैं तो इस मौक़े पर ब्रितानी भारतीयों को दीवाली की विशेष शुभकामनाएं.”

RISHI SUNAK: ब्रितानी राजनीति में हुए इस बदलाव पर भारतीय न्यूज़ चैनलों पर ख़ास कवरेज़ देखने को मिली. एक चैनल ने यहाँ तक कहा है कि ब्रितानी ‘साम्राज्य पर आख़िरकार एक भारतीय बेटे ने जीत हासिल की, ब्रिटेन में इतिहास ने अपना चक्र पूरा कर लिया है। ”

भारतीय मीडिया में सुनक की इस उपलब्धि पर चर्चा होना लाज़मी माना जा रहा है. सुनक के दादी-बाबा भारतीय राज्य पंजाब के रहने वाले थे। ऋषि के ससुर नारायण मूर्ति इन्फोसिस के संस्थापक और भारत के सबसे बड़े व्यवसायियों में से एक हैं.

यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष शार्ल्स मीशेल ने इस ख़बर पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है, ‘हमारे सामने जो साझा चुनौतियां हैं, उनका सामना करने के लिए हमें साथ में काम करना होगा और स्थिरता बरक़रार रखना इस दिशा में बेहद अहम है।’

RISHI SUNAK: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज़ शरीफ़ ने ट्वीट कर इस कामयाबी के लिए ऋषि सुनक को बधाई दी है। उन्होंने लिखा है, “ऋषि सुनक को ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री और कंज़र्वेटिव पार्टी के नेता चुने जाने पर बधाई। मैं उनके साथ मिलकर साझा हितों और पाकिस्तान – ब्रिटेन रिश्तों को मज़बूती देने की दिशा में काम करना चाहूंगा।”

Advertisement