Surya Grahan 2022: सूर्य ग्रहण खत्म, अब 8 नवंबर को साल का आखिरी चंद्र ग्रहण

5
surya grahan seen in all around the world

Surya Grahan: देश-विदेश में सूर्य ग्रहण खत्म हो गया है। यह सूर्य ग्रहण भारत सहित दुनिया के कई हिस्सों में देखा गया। इस साल का आखिरी सूर्यग्रहण (Solar Eclipse) आइसलैंड से दो बजकर 29 मिनट पर शुरू हुआ था। भारत में ग्रहण शाम 4 बजकर 29 मिनट से शुरू हुआ है, जो शाम 6 बजकर 9 मिनट पर खत्म होगा।

Surya Grahan: सूर्यग्रहण के बाद 8 नवंबर को चंद्रग्रहण (Lunar eclipse) पड़ रहा है। इससे पहले, महाभारत युद्ध से 15 दिन पहले दो बार ग्रहण पड़ा था। ग्रहण लगने के 12 घंटे पहले से सूतक काल प्रभावी हो गया है। ग्रहण को भारत सहित दुनिया के कुछ हिस्सों में देखा जा सकता है।

Surya Grahan: भारत में सूतक काल भोर में 4 बजे से शुरू हो गया है। ग्रहण की वजह से गोवर्धन पूजा 25 अक्टूबर की जगह 26 अक्टूबर और भैया दूज 26 अक्टूबर की जगह 27 अक्टूबर को मनाया जाएगा। दीपोत्सव भी इस साल 5 दिन की जगह 6 दिन तक चलेगा। नासा ने ग्रहण को लाइव देखने के लिए लिंक जारी किया है।

Surya Grahan: भारत में साल 2022 का आखिरी सूर्यग्रहण 25 अक्टूबर यानी मंगलवार को शाम 4 बजकर 29 मिनट से शाम 6 बजकर 9 मिनट तक रहा। अब 15 दिन के भीतर 8 नवंबर को चंद्रग्रहण लगेगा। महाभारत युद्ध से 15 दिन पहले भी दो बार ग्रहण पड़ा था।

बता दें कि सूर्य ग्रहण के खत्म होने के बाद ये काम जरूर करना चाहिए। ग्रहण के खत्म होने के बाद गंगा स्नान करना चाहिए। ग्रहण के बाद दान करने से लाभ मिलता है।

Surya Grahan: ग्रहण के बाद पूरे घर में गंगाजल का छिड़काव करना चाहिए। ग्रहण के बाद पूजा-पाठ करना चाहिए। पूजा स्थल पर गंगाजल का छिड़काव करना चाहिए।

ऐसी मान्यता है कि सूर्य ग्रहण के दौरान इन मंत्रों को लगातार जपना चाहिए।
तमोमय महाभीम सोमसूर्यविमर्दन।
हेमताराप्रदानेन मम शान्तिप्रदो भव॥
ओम आदित्याय विदमहे दिवाकराय धीमहि तन्न: सूर्य:प्रचोदयात।।
प्रसीद-प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्म्यै नम:॥

गौर करें तो कुछ काम नहीं करने चाहिए। सूर्य ग्रहण के दौरान खाना नहीं चाहिए। पूजापाठ और शुभ कार्य नहीं करना चाहिए। गर्भवती महिलाओं को ग्रहण नहीं देखना चाहिए। ग्रहण में तुलसी और अन्य पेड़-पौधों को न छूना चाहिए। ग्रहण के दौरान यात्रा नहीं करनी चाहिए।

Advertisement