TwitterElonMusk: ट्विटर खरीदते ही एलन मस्क ने पराग समेत कई अफसरों को निकाला, 5,600 कर्मचारियों की हो सकती है छुट्टी

10
Twitter@ElonMusk-elon musk done twitter deal
image credit: foxbusiness.com

TwitterElonMusk: सबसे अमीर शख्स और टेस्ला के मालिक एलन मस्क ने ट्विटर डील फाइनल कर दी। वहीं सौदा पक्का होते ही CEO पराग अग्रवाल, CFO नेड सेगल और लीगल अफेयर्स एंड पॉलिसी चीफ विजया गड्डे को कंपनी से हटा दिया।

TwitterElonMusk: सीईओ पराग अग्रवाल को मिलेगा 412 करोड़ का हर्जाना

TwitterElonMusk: ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट्स के मुताबिक, ट्विटर तीनों अधिकारियों पर हर्जाने के तौर पर कुल 100 मिलियन डॉलर यानी 823 करोड़ रुपए खर्च करेगी। इनमें पराग अग्रवाल को सबसे ज्यादा 50 मिलियन डॉलर यानी 412 करोड़ रुपए मिलेंगे। वहीं नेड सेगल को 37 मिलियन डॉलर (304 करोड़ रुपए) और विजया गड्डे को 17 मिलियन डॉलर यानी 140 करोड़ रुपए कंपनी देगी।

बता दें कि पिछले साल नवंबर में जैक डोर्सी के इस्तीफे के बाद पराग अग्रवाल को कंपनी का CEO बनाया गया था। पराग नवंबर में CEO बनने से पहले ट्विटर के चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर थे। साल 2021 में उन्हें सैलरी और दूसरे भत्तों के रूप में 3.04 करोड़ डॉलर मिले थे। CEO के रूप में अग्रवाल का वेतन सालाना 1 मिलियन डॉलर यानी 9 करोड़ 24 लाख रुपए बताया गया था।

TwitterElonMusk: द वॉशिंगटन पोस्ट की एक रिपोर्ट के मुताबिक, मस्क कंपनी के 7,500 एम्प्लॉइज में से 75%, यानी करीब 5,600 कर्मचारियों को नौकरी से हटा सकते हैं। उन्होंने ट्विटर डील के दौरान संभावित निवेशकों से यह बात कही थी। हालांकि यह रिपोर्ट आने के बाद ट्विटर के जनरल काउंसल सीन एडगेट ने इससे इनकार किया है। कर्मचारियों को ईमेल भेज कर कहा कि कंपनी छंटनी को लेकर कोई प्लान नहीं बना रही है।

ट्विटर के नए मालिक मस्क ने डील होते ही ट्वीट किया- चिड़िया आजाद हुई। इससे पहले कहा, ‘मैं चाहता हूं टिवटर पर लोग फिल्में देखें और वीडियो गेम खेलें।’

TwitterElonMusk: गौर करें तो एलन मस्क ने 27 अक्टूबर को ट्विवटर डील पर मुहर लगाई। इससे पहले मस्क ने पराग और दो ऑफिसर्स पर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर फर्जी अकाउंट्स की संख्या को लेकर उन्हें और ट्विटर इन्वेस्टर्स को गुमराह करने का आरोप लगाया।

मस्क ने संकेत दिया कि आगे चलकर ट्विटर की ऐड पॉलिसी में भी बदलाव किया जाएगा। मस्क ने कहा, ‘मैं चाहता हूं कि ट्विटर सबसे बेहतरीन एडवर्टाइजिंग प्लेटफॉर्म हो, जहां सभी उम्र के यूजर्स फिल्में देख सकें या वीडियो गेम खेल सकें।’
एलन मस्क ने ट्विटर से डील करने की कई वजहों का खुलासा किया है। मस्क ने कहा कि इंसानियत की मदद करने लिए डील की है।

27 अक्टूबर को एलन मस्क ने पहले अपने ट्विटर हैंडल का बायो भी बदला। उन्होंने बायो में ‘Chief twit’ लिखा। इसके बाद ट्विटर हेडक्वार्टर सिंक लेकर पहुंचे। उन्होंने वीडियो को शेयर करते हुए लिखा कि ‘Entering Twitter HQ – let that sink in! इसके अलावा, एम्प्लॉइज से बात की। इसकी कुछ तस्वीरें ट्विटर पर शेयर की गईं।

Twitter@ElonMusk: गौर करें तो मस्क ने 14 अप्रैल को 43 अरब डॉलर में ट्विटर खरीदने का ऑफर दिया था। मस्क ने कहा था कि ट्विटर में निवेश शुरू करने से एक दिन पहले के भाव से 54% प्रीमियम पर 54.20 डॉलर प्रति शेयर के हिसाब से 100% हिस्सेदारी खरीदने की पेशकश कर रहा हूं। यह ऑफर मेरा सबसे अच्छा और आखिरी ऑफर है और यदि इसे स्वीकार नहीं किया जाता है, तो मुझे एक शेयरधारक के रूप में अपनी स्थिति पर पुनर्विचार करने की जरूरत होगी।

TwitterElonMusk: मस्क के पास ट्विटर की 9.2% हिस्सेदारी थी। 4 अप्रैल को इसकी जानकारी सामने आई थी। मस्क ने भले ही शुरुआती फाइलिंग में 43 अरब डॉलर का ऑफर दिया था, लेकिन ट्विटर की डील को मंजूरी के बाद ये आंकड़ा 44 अरब डॉलर पर पहुंच गया था। हालांकि, बाद में मस्क ने कहा कि स्पैम अकाउंट की सही जानकारी नहीं होने के कारण वह डील को कैंसिल कर रहे हैं। डील कैंसिल होने के बाद ट्विटर कोर्ट पहुंच गया था।

Twitter@ElonMusk: एलन मस्क ने चार महीने पहले जुलाई में ट्विटर खरीद डील कैंसिल कर दी थी। 44 अरब डॉलर (3.37 लाख करोड़ रुपए) की इस डील को खत्म करते समय मस्क ने कहा था- कंपनी अपने प्लेटफॉर्म पर मौजूद फेक या नकली ट्विटर अकाउंट्स से जुड़ा डेटा मुहैया कराने में नाकाम रही है।

Advertisement